12 से ज्यादा को दोबारा किया भुगतान, 62 लाख की रिकवरी के लिए अब अफसर परेशान

पीएम आवास योजना नपा परिषद के गले की फांस बन गई है। कारण एक दर्जन से ज्यादा हितग्राही बने हैं, जिनके बैंक खातों में नपा ने दो बार या अपात्रों को आवास योजना की किस्त जारी कर दी है। यह राशि लगभग 62 लाख रुपए है। इसकी रिकवरी में नपा परिषद के जिम्मेदारों के साथ अधिकारी इतने उलझ गए हैं कि सुलझ ही नहीं पा रहे हैं। क्योंकि जिन हितग्राहियों के खातों में दोबारा किस्त जारी हुई है, वे खातों से राशि निकालकर अन्य कामों में खर्च कर चुके हैं। अधिकारी इन्हें धमका भी रहे हैं, लेकिन हितग्राहियों के खाते खाली और हालात ऐसे नहीं कि नपा उनसे रिकवरी कर सकें।ऐसे में योजना का काम देख रहे अधिकारियों की सांसें फूल रही है। उदाहरण के लिए वार्ड 21 के हितग्राही महेश जायसवाल को नपा ने 1 लाख 60 हजार का अतिरिक्त भुगतान कर दिया है। इसी तरह एक अन्य हितग्राही को अधिकारियों ने दोबारा ढाई लाख रुपए जारी किए हैं। ऐसे और भी मामले हैं। जिनसे रिकवरी के लिए अधिकारी परेशान हो रहे हैं।क्या जानबूझकर योजना से वंचित रख रहे अधिकारीगब्बर के पास हर दस्तावेज जमा कराने का सबूत है। लिखित में पावती है। गब्बर के खाते में नपा एक लाख की किस्त जारी कर चुकी है। बाद में स्टाप पेमेंट का आवेदन बैंक को दिया है। यह स्टाप पेमेंट दस्तावेज के अभाव में नहीं किया गया, क्योंकि सभी तरह से परखने के बाद ही किस्त बैंक खातों में ट्रांसफर होती है। कारण राजनीतिक है। ऐसे में देखना है कि एसडीएम पीएम आवास योजना में लापरवाही करने वाले संबंधितों पर एफआईआर या अनुशासनात्मक कार्रवाई करती है या फिर गब्बर ऐसे ही अपने घर का सपना लिए भटकता रहेगा।जहां एक ओर नपा लाभ ले चुके हितग्राहियों को दोबारा किस्त जारी कर रही हैं, वहीं कई हितग्राही ऐसे हैं, जिन्हें आवेदन के बाद अधिकार पत्र मिले महीनों गुजर गए हैं, लेकिन उन्हें पहली किस्त का भुगतान भी नहीं हुआ है। वार्ड 15 के गब्बर इसमें सबसे एक उदाहरण है, जिनके खाते में नपा ने 5 जून को 1 लाख की पहली किस्त जारी कर दी, मगर बाद में भुगतान पर रोक लगा दी। कारण दस्तावेज अपर्याप्त होना बताया। उनकी पूर्ति हो गई तो कहा कि शपथ पत्र नहीं है, जबकि पूर्व में दिए गए दस्तावेजों की बाकायदा आवक-जावक रसीद गब्बर के पास है। बावजूद गब्बर ने दोबारा शपथ पत्र दिया। फिर भी उसे किस्त नहीं मिली। परेशान होकर उसने एसडीएम नेहा भारतीय को शिकायत की है कि सप्ताह भर में उसे किस्त का भुगतान नहीं किया तो अनशन पर बैठ जाऊंगा।

August 19, 2018 23:03 UTC


स्मृति..शिक्षक संघ ने किया वाजपेयी को याद

संघ ने किया वाजपेयी को याददमोह | मप्र शिक्षक संघ शाखा द्वारा जिला कार्यालय पुरानी कलेक्ट्रेट में पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी की दिवंगत आत्मा की शांति के लिए श्रद्धांजलि सभा हुई। संरक्षक कमल सिंघई, पारस कुमार जैन, प्रदीप अग्रवाल, एलपी चौरसिया, शरद तिवारी, एमके खरे, पीके जैन, लीला राजपूत, मनोज विश्वकर्मा, दीपक सिंह, राजेंद्र शुक्ला, नीरज शर्मा, भरत दुबे, अखिलेश सोनी, आलोक, दिनेश, गणेश, सुरेंद्र, एलसी, विनय, सुरेंद्र, घनश्याम, कम्मू, दीपेंद्र, कमलेश, महेंद्र, संतोष, अमरचंद, अजय, अरिज, गणेश, आरसी, अरविंद, एसके, रामकुमार, अमित, प्रमेंद्र थे।

August 19, 2018 22:52 UTC


नाबालिग के साथ दुष्कर्म करने वाला आरोपी गिरफ्तार

जिले के बटियागढ़ थाना क्षेत्र में 15 दिन पूर्व एक नाबालिग के साथ दुष्कर्म के फरार आरोपी को पुलिस ने सोरई गांव के हनुमत घाटी के पास गिरफ्तार किया है।थाना प्रभारी एमएस बगेन ने बताया कि 3 अगस्त को बटियागढ़ थाना क्षेत्र में एक नाबालिग के साथ दुष्कर्म करके आरोपी फरार हो गया था। जिसे गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने सभी जगह तलाश किया।रविवार को मुखबिर की सूचना मिली कि आरोपी हल्लू पिता गुंचाई आदिवासी को ग्राम सोरई हनुमत घाटी के जंगल मे छुपा है। जिसके बाद पुलिस ने जंगल मे सर्चिंग कर आरोपी को गिरफ्तार किया। पकड़े गए आरोपी पर धारा 376,323,506, 23/4 पॉस्को एक्ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है। आरोपी का स्वास्थ्य परीक्षण कराकर न्यायालय में पेश कर जेल भेजा गया है। इस कार्रवाई में प्रधान आरक्षक अक्षेन्दनाथ, आरक्षक शैलेंद्र राजपूत, वीरेंद्र व अजीत दुबे का सहयोग रहा।

August 19, 2018 22:52 UTC


गांव जनक का माजरा में दिव्यांग महिला से गैंगरेप

जनक का माजरा में दिव्यांग युवती से हुए गैंगरेप के मामले में पुलिस के सामने चुनौती है। पुलिस पहले केस दर्ज करने के लिए बयानों को लेकर उलझी रही। पिता के बयान पर केस दर्ज कर लिया। पुलिस परिवार के लोगों के साथ पीड़िता को लेकर कोर्ट पहुंची। यहां पर बयान रिकॉर्ड नहीं हो पाए। क्योंकि कोर्ट ने कहा कि बिना एक्सपर्ट (जो महिला के हावभाव समझकर बता सके) के बयान रिकॉर्ड नहीं किए जा सकते। हालांकि महिला के हावभाव को उसका पिता भी समझता है, लेकिन परिवार के सदस्य को एक्सपर्ट के तौर पर शामिल नहीं किया गया। अब पुलिस एक्सपर्ट को तलाश कर रही है। सरकारी वकील डॉ. मुकेश कुमार ने बताया कि एक्सपर्ट मिलने के बाद महिला के 164 के बयान रिकार्ड किए जाएंगे।शनिवार शाम को जैसे ही पुलिस के पास यह मामला पहुंचा तो पुलिस गांव में पहुंची। गांव के युवकों और कुछ लोगों को महिला के सामने पेश किया। महिला इनमें से किसी को नहीं पहचान पाई। वारदात के बाद जब पीड़िता वहां से भागने लगी तो गन्ने के खेत के पास गिर गई। एक महिला ने उसे देखकर उठाया। इतने में मुंह पर कपड़ा बांधे आरोपी वहां से भाग गए। रविवार को पुलिस ने वारदात स्थल की भी जांच की लेकिन कोई सुराग नहीं लगा।पीड़ित की उम्र 25 साल है। करीब पांच साल पहले उसकी हुई थी। अभी कोई बच्चा नहीं है। पीड़ित के पिता ने पुलिस को शिकायत दी है कि 17 अगस्त रात नौ बजे बेटी की सास का फोन आया। उन्होंने कहा कि वे जनक का माजरा में जल्दी आ जाए, जरूरी बात करनी है। 18 अगस्त को बेटी के ससुराल पहुंचा। उसने इशारों में बताया कि वह 17 अगस्त शाम साढ़े पांच बजे शौच के लिए खेतों में गई थी। वहां पर तीन युवकों ने उसे पकड़ लिया और दुष्कर्म किया। वह उन्हें नहीं जानती है। पुलिस ने धारा-376 डी में केस दर्ज किया है। पुलिस ने पीड़ित का मेडिकल कराया। इसमें दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। परिवार की मानें तो घर में टॉयलेट बना हुआ है।

August 19, 2018 22:18 UTC


बेटे की मौत के सदमे में पिता निकला घर से, रास्ते में मृत मिला

यमुनानगर | गांव धौड़ग निवासी मोहनलाल (52) की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उनका शव कमानी चौक के पास पड़ा मिला। पुलिस कुछ देर सीमा में उलझी रही। जहां पर शव मिला था वह एरिया फर्कपुर थाना का था, लेकिन सूचना पर सिटी यमुनानगर पुलिस पहुंच गई थी। बाद में फर्कपुर पुलिस ने पूरी कार्यवाही की।आसपास के दुकानदारों ने बताया कि व्यक्ति एक दम से जमीन पर गिरा और वहीं पर उसकी मौत हो गई। परिजन ने बताया कि मोहनलाल के बेटे संजीव की 16 अगस्त को बीमारी से मौत हो गई थी। इस वजह से वह परेशान चल रहा था। वह घर पर यह कहकर निकला था कि कहीं जा रहा है। इसके बाद नहीं लौटा। उसकी तलाश भी की, लेकिन पता नहीं चला। संजीव की रविवार को अस्थियां चुनी जानी थी। परिवार के लोग मोहनलाल के वापस आने का इंतजार कर रहे थे। सुबह 10.30 बजे पुलिस का फोन आया कि मोहनलाल कमानी चौक के पास मृत हालत में पड़ा है। पुलिस का कहना है कि मामले में 174 की कार्रवाई की गई है। परिवार के लोगों ने किसी पर कोई आरोप नहीं लगाया है।

August 19, 2018 22:18 UTC


वोटर लिस्ट ड्राफ्ट की आपत्तियां दूर, नगर निगम अधिकारियों पर गंभीर आरोपों के बाद की कार्रवाई

नगर निगम चुनाव के लिए वोटर लिस्ट ड्राफ्ट की सभी आपत्तियों को दुरुस्त कर दिया गया है। ड्राफ्ट में भारी गड़बड़ी होने के कारण निगम चुनाव लड़ने के इच्छुक कई उम्मीदवारों ने तो निगम अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाए थे। डीसी गिरीश अरोड़ा से लेकर सीएम विंडो व निर्वाचन आयोग तक निगम अधिकारियों के खिलाफ शिकायत भेजी गई। डीसी एवं निर्वाचन अधिकारी गिरीश अरोड़ा ने सभी आपत्तियों को दूर करने की पुष्टि की है। उनकी मानें तो आपत्तियां दूर करने के बाद ड्राफ्ट फिर प्रशासन की बेवसाइट पर अपलोड कर दिया गया है। नई लिस्ट में वोटरों की संख्या के लिहाज से वार्ड नंबर-15 सबसे बड़ा व वार्ड सात सबसे छोटा है।दरअसल नगर निगम चुनाव के लिए नए सिरे से की गई वार्डबंदी के दौरान जनसंख्या के आधार पर इस बार 20 की जगह वार्डों की संख्या 22 की गई है। चुनाव के लिए वोटर लिस्ट का ड्राफ्ट तैयार कर उसे 23 जुलाई 2018 को प्रशासन की बेवसाइट www.yamunanagar.nic.in पर अपलोड कर दिया गया था।वोटर लिस्ट ड्राफ्ट से सबसे ज्यादा दिक्कत वार्ड नंबर-4, 10, 13, 15, 16, 20, 21 व 22 में आई। वार्ड नंबर-20 व 22 के तो कई बूथ दूसरे वार्ड में शिफ्ट कर दिए गए। इन वार्डों के लोगों ने खूब हल्ला मचाया। निगम अधिकारियों पर कई पूर्व पार्षदों के इशारे पर ये साजिश रचने के भी आरोप लगाए गए। शिकायतों के बाद ही ड्राफ्ट की नए सिरे से जांच हुई। अब सभी शिकायतें दूर कर ड्राफ्ट को नए सिरे से अपलोड किया गया है।मेरे वार्ड की करीब 4500 वोटें दूसरे वार्डों में शिफ्ट हो गईं थीं। काफी वोटें गायब थीं। इस पर मैंने कड़ी आपत्ति जताई थी। कई जगह शिकायत भी की। नए ड्राफ्ट में सभी वोटें वापिस मेरे वार्ड में आ गई हैं। इसके लिए मैं तो खुद डीसी व दूसरे अधिकारियों की आभारी हूं कि उन्होंने मेरी शिकायत पर गौर किया। मोनिक डूमरा, वार्ड नंबर-20वोटर लिस्ट ड्राफ्ट पर दर्ज करवाई गई आपत्तियों का भी समाधान कर दिया गया है। अगर फिर भी कोई कार्रवाई से सहमत न हो तो इसके लिए अब डीसी ऑफिस की पेशी शाखा में 21 अगस्त 2018 तक अपील दर्ज करवाने का मौका मिलेगा। इसके पश्चात कोई भी अपील स्वीकार नहीं की जाएगी हालांकि अभी तक ड्राफ्ट को लेकर किसी ने भी अपील दायर करने की पुष्टि नहीं की है।1 134202 183803 128004 159855 118466 136297 82618 176569 1526610 1163511 1033212 1221413 1090314 1205015 1986616 1713117 1436018 1238019 1735320 1198721 1017722 14395मेरे वार्ड की भी करीब 4 हजार वोटें दूसरे वार्ड में ट्रांसफर हो गई थी। मैंने व मेरे पिता ने कड़ी आपत्ति जताई थी। शिकायत के बाद निगम की ओर से कार्रवाई शुरू हुई। नए ड्राफ्ट में पूरी लिस्ट दुरूस्त हो गई है। हमारी सभी वोटें दोबारा लिस्ट में डाल दी गई हैं। अगर निगम अधिकारी ये काम पहले करते तो शायद इतना हल्ला न होता। प्रिंस डग्गा, वार्ड नंबर-15

August 19, 2018 22:18 UTC


भाजपा ने लोगों का आपसी भाईचारा खराब कर दिया: आस मोहम्मद

गांव रायपुर के मदरसे में सद्भावना कार्यक्रम हुआ। इसकी अध्यक्षता कांग्रेस के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के चेयरमैन राणा आस मोहम्मद ने की। आस मोहम्मद ने कहा कि हमारा पहला धर्म है समाज में भाईचारा बनाए रखना। हमें भले ही किसी भी पार्टी से जुड़े हों, लेकिन हमें समाज हित की बात करनी चाहिए। इस समय समाज में हालात खराब हैं। वोट बैंक के चक्कर में भाजपा ने भाईचारा खराब कर दिया है। कांग्रेस राज में समाज का भाईचारा कभी खराब नहीं हुआ। कार्यक्रम के अंत में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन को देश के लिए बड़ी हानि बताया। मौके पर सरपंच भूरा, वाइस चेयरमैन असलम खान, प्रविंद्र सिंह, नंबरदार राशिद अली, हाजी इकरान, शौकीन अली, डॉ. जिशान, जग्गी छछरौली, अकरम, आमिर खान, आदिल खान, सुखविंद्र सिंह, यादविंद्र सिंह, पिंटू, मोहम्मद हसन, इल्यास, सुरेंद्र मसीह, लियाकत मौजूद रहे।यमुनानगर | गांव रायपुर के मदरसे में सदभावना कार्यक्रम में मौजूद लोग।

August 19, 2018 22:18 UTC


साहा हादसा: कार में सवार चारों छात्र थे नाबालिग पहले एक्टिवा और कुछ दिन से कार में घूम रहे थे

पीजीआई रेफर गर्वित की हालत गंभीर, मृतक नितेश के घर पर मातमभास्कर न्यूज | यमुनानगरसाहा में महिंद्रा पिकअप की टक्कर से घायल कार सवार गर्वित को अम्बाला के अस्पताल से चंडीगढ़ पीजीआई रेफर कर दिया गया है, जहां उसकी हालत गंभीर है। उधर कार चालक मृतक नितेश के घर पर दिनभर परिजनों को सांत्वना देने वालों की भीड़ रही। बताया गया है कि कार सवार चारों छात्र अंडरएज थे, जो पहले एक्टिवा और कुछ दिनों से कार पर घूम रहे थे। हादसे के दिन गर्वित ट्यूशन जाने को घर से बिन बताए कार ले गया था। गर्वित के योगेश नगर स्थित घर पर सन्नाटा है। परिजन उसके इलाज के लिए चंडीगढ़ पीजीआई में हैं। पड़ोस के लोगों ने बताया कि गर्वित की मां ब्यूटी पार्लर का काम करती हैं। जबकि पिता का अपना बिजनेस है। उनके मुताबिक गर्वित एक्टिवा पर ट्यूशन और स्कूल जाता था। कुछ दिनों से वह कार लेकर जा रहा था।नितेश के रामपुरा कॉलोनी स्थित घर पर परिजनों को सांत्वना देने पहुंचे नीतेश के ट्यूशन और स्कूल के साथियों ने कहा कि सेक्टर-17 के स्वामी विवेकानंद पब्लिक स्कूल में ग्यारहवीं कॉमर्स स्टूडेंट नीतेश, वंश, गर्वित और अभय चारों में गहरी दोस्ती थी। नितेश सभी से दोस्ती निभाता था और एक बार बुलाने पर मदद के लिए हर वक्त तैयार रहता था। उधर, स्कूल स्टाफ ने भी नीतेश के घर पर आकर उसके पिता फर्नीचर कारोबारी शिव कालड़ा व अन्य परिजनों को सांत्वना दी।

August 19, 2018 22:18 UTC


31 तक होंगे मप्र टूरिज्म अवार्ड आवेदन

मप्र टूरिज्म बोर्ड द्वारा पर्यटन के क्षेत्र में विशेष कार्य करने वाले संस्थाओं और व्यक्तियों से मप्र टूरिज्म अवार्ड-2018 लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए हैं। आवेदन एमपी टूरिज्म बोर्ड के वेब पेज http://tourism.mp.gov.in पर 31 अगस्त को शाम 5 बजे तक ही किए जा सकेंगे। टूर ऑपरेटर, ट्रेवल एजेंट, होटल, हैरिटेज होटल, ईको फ्रैंडली होटल, होम स्टे, शेफ, रिस्पांसिबल पर्यटन प्रोजेक्ट, टूरिस्ट गाइड, इनोवेटिव टूरिज्म प्रोजेक्ट, पर्यटक फ्रेंडली मॉन्यूमेंट्स, पर्यटक तीर्थ स्थल, ट्रेवल राइटर और ब्लॉगर सहित 36 श्रेणियों में अवार्ड के लिए आवेदन होंगे। टूरिज्म बोर्ड द्वारा पर्यटन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले लोगों को सम्मानित करने के लिए दो साल से पुरस्कार दिए जा रहे हैं।

August 19, 2018 21:45 UTC


Tags
Cryptocurrency      African Press Release      Lifestyle       Hiring       Health-care

Loading...