छत्तीसगढ़: बिलासपुर में एक परिवार के 8 लोगों की मौत, CMO ने कहा- होम्योपैथिक दवा पीनेे का मामला

छत्तीसगढ़: बिलासपुर में एक परिवार के 8 लोगों की मौत, CMO ने कहा- होम्योपैथिक दवा पीनेे का मामलाछत्तीसगढ़ के बिलासपुर में गुरुवार को एक ही परिवार के सात लोगों की मौत हो गई है और पांच की हालत गंभीर बताई जा रही है। CMO की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार होम्योपैथिक दवा पीना इन मौतों का कारण हो सकता है।बिलासपुर, एएनआइ। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में गुरुवार को एक ही परिवार के आठ लोगों की मौत हो गई है और पांच की हालत गंभीर बताई जा रही है। मामले में Chief Medical Officer (CMO) ने बताया, 'होमियोपैथिक दवा पीना इन मौतों का कारण हो सकता है। अन्य कारणों को पता करने के लिए भी टीम लगी है। 8 लोगों की मौत हो चुकी है और 5 अस्पताल में भर्ती हैं।' CMO के अनुसार इन लोगों ने होम्योपैथिक दवा Drosera 30 पी लिया था जिसमें 91 फीसद अल्कोहल होता है। डॉक्टर अभी फरार बताया जा रहा है। ऐसा बताया जा रहा है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए इन लोगों ने एल्कोहल युक्त इस दवा का सेवन किया था।यह मामला यहां के कोरमी गांव (Kormi) का है जो सिरगिट्टी पुलिस स्टेशन (Sirgitti police station) के अंंतर्गत आता है। मृतकों में चार की मौत मंगलवार रात उनके घर में ही हो गई जबकि बाकियों की मौत अस्पताल में इलाज के दौरान हुई। यह जानकारी सुप्रिटेंडेंट ऑफ पुलिस प्रशांत अग्रवाल (Prashant Agrawal) ने दी।शुरुआत की जांच के अनुसार, 32 वर्षीय कमलेश धुरी (Kamlesh Dhuri), 21 वर्षीय अक्षय धुरी (Akshya Dhuri) और राजेश धुरी (Rajesh Dhuri) व 25 वर्षीय समरु धुरी (Samru Dhuri) ने होम्योपैथी दवा ड्रोसेरा- 30 (Drosera-30) सिरप मंगलवार रात पी लिया था। इसके बाद इन सबकी हालत खराब हो गई।इन मौतों के मामलों को कोविड-19 संक्रमण से जोड़कर देखा गया और उनके परिजनों ने अगली सुबह ही अंतिम संस्कार कर दिया। इस मामले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस की टीम बुधवार शाम को गांव पहुंची।Chhattisgarh | 8 members of a family dead, 5 hospitalized after consuming a homeopathic medicine in Bilaspur, says CMO "They consumed homeopathic medicine Drosera 30, which contains 91% alcohol mixed with country-made liquor. The doctor is absconding," he adds pic.twitter.com/HuIhnDQqU0 — ANI (@ANI) May 6, 2021शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

May 06, 2021 09:06 UTC


बंगाल में चुनाव खत्म, हिंसा जारी: केंद्रीय मंत्री मुरलीधरन का आरोप- TMC के गुंडों ने कार पर पत्थरों और लाठी-डंडों से किया हमला

Hindi NewsNationalUnion Minister V Muraleedharan Convey Attack By TMC Party Worker Update | West Bengal Violence After ElectionAds से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐपबंगाल में चुनाव खत्म, हिंसा जारी: केंद्रीय मंत्री मुरलीधरन का आरोप- TMC के गुंडों ने कार पर पत्थरों और लाठी-डंडों से किया हमलाकेंद्रीय मंत्री की ओर से शेयर किए गए वीडियो में एक व्यक्ति डंडे से उनकी कार पर हमला करता हुआ दिखाई दे रहा है।पश्चिम बंगाल में चुनावी नतीजों के बाद से शुरू हुई सियासी हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही। केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन की कार पर गुरुवार को पश्चिमी मिदनापुर के पंचखुड़ी में भीड़ ने हमला बोल दिया। लोगों ने पत्थरों और लाठी-डंडों से हमला किया। इससे कार के शीशे फूट गए।केंद्रीय मंत्री ने खुद सोशल मीडिया पर हमले की जानकारी दी। उन्होंने वीडियो पोस्ट कर कहा कि तृणमूल के गुंडों ने मेरे काफिले पर हमला किया। गाड़ी की खिड़कियों को तोड़ दिया गया। कर्मचारियों पर भी हमला किया गया। उन्होंने बताया कि ड्राइवर को चोटें आई हैं। पश्चिमी मिदनापुर के एसपी दिनेश कुमार ने बताया कि 8 संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है। मामले में 3 पुलिसकर्मियों के शामिल होने की भी संभावना है।#WATCH Union Minister V Muraleedharan's car attacked by locals in Panchkhudi, West Midnapore#WestBengal(Video source: V Muraleedharan) pic.twitter.com/oODtHWimAW — ANI (@ANI) May 6, 2021वीडियो में डंडे के साथ मंत्री की ओर बढ़ता दिखा हमलावरवीडियो में एक व्यक्ति डंडे से उनकी कार पर हमला करते हुए दिखाई दे रहा है। लोगों की भीड़ मंत्री के काफिले की ओर बढ़ती नजर आ रही है। इसके बाद केंद्रीय मंत्री की गाड़ी का ड्राइवर गाड़ी को बैक करने लगता है। जहां पर हमला हुआ, वहां TMC के झंडे-बैनर लगे हुए हैं। वीडियो में गाड़ी के टूटे हुए शीशे भी नजर आ रहे हैं।दिलीप घोष गृह मंत्रालय की टीम से मिलेइस बीच, बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष के नेतृत्व में 10 सदस्यीय डेलिगेशन राज्य के दौरे पर आई गृह मंत्रालय की टीम से कोलकाता स्थित BSF ऑफिस में मुलाकात की। बता दें कि राज्य में चुनाव के बाद जारी राजनीतिक हिंसा में भाजपा ने अपने 11 वर्कर्स के मारे जाने का दावा किया है।बंगाल हिंसा पर एक्शन में गृह मंत्रालयइस बीच केंद्रीय गृह मंत्रालय भी एक्शन में आ गया है। गृह मंत्रालय ने चार मेंबर्स की टीम को बंगाल भेजा है, जो हिंसा की जांच करेगी। इससे पहले गृह मंत्रालय ने राज्यपाल से भी रिपोर्ट तलब की थी और हिंसा को लेकर जानकारी मांगी थी। उधर, भाजपा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाकर राज्य में कानून-व्यवस्था कायम रखने के लिए केंद्रीय बलों की तैनाती की मांग की है। वहीं, हिंसा की जांच CBI से कराने की याचिका दायर की है।केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर ने कहा- अगर बंगाल में भाजपा नेता का काफिला सुरक्षित नहीं है, तो फिर कौन है? ये हिंसा राज्य सरकार करवा रही है। हम इस हिंसा की निंदा करते हैं। इसे रोकने के लिए सख्त कदम उठाने चाहिए और दोषियों को दंड दिया जाना चाहिए।तृणमूल बोली- भाजपा माफी मांगेतृणमूल विधायक मदन मित्रा ने चुनाव बाद जारी हिंसा को लेकर भाजपा को कठघरे में खड़ा किया है। उन्होंने कहा- बंगाल में हिंसा है, इससे हम इनकार करते हैं। एक-दो छोटे-मोटे झगड़े हो सकते हैं। BJP जीतती तो अभी तक बंगाल में दंगा हो जाता। गृह मंत्रालय की टीम जाकर अगर ऐसा करे, जिससे हिंसा बढ़े तो यह ठीक नहीं है। जो 200 पार बोला था न, उसे शर्म आनी चाहिए और माफी मांगनी चाहिए।बंगाल में चुनाव के बाद हिंसा में अब तक 17 की मौतबंगाल के कई जिलों में भाजपा और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच खूनी झड़प की खबरें आ रही हैं। इसमें अब तक 17 लोगों की मौत हो चुकी है। भाजपा के ऑफिस और पार्टी वर्कर्स के घरों और दुकानों में भी आगजनी की खबरें हैं।

May 06, 2021 08:16 UTC


Tags
Finance      African Press Release      Lifestyle       Hiring       Health-care       Online test prep Corona       Crypto      Vpn      Taimienphi.vn      App Review      Company Review      Game Review     
  

Loading...