नाराजगी: स्ट्रीट लाइटें ठीक न कराने पर राइट टू सर्विस कमीशन ने नगर निगम को जारी किया नोटिस, मांगा जवाब - News Summed Up

नाराजगी: स्ट्रीट लाइटें ठीक न कराने पर राइट टू सर्विस कमीशन ने नगर निगम को जारी किया नोटिस, मांगा जवाब


Hindi NewsLocalHaryanaFaridabadRight To Service Commission Issued Notice To Municipal Corporation For Not Fixing Street Lights, Sought Replyनाराजगी: स्ट्रीट लाइटें ठीक न कराने पर राइट टू सर्विस कमीशन ने नगर निगम को जारी किया नोटिस, मांगा जवाबफरीदाबाद 15 घंटे पहलेकॉपी लिंकलाइटें न जलने की एक माह पहले की थी शिकायत, लेकिन नगर निगम ने नहीं किया कोई प्रयास।निर्धारत समय सीमा के अंदर बंद पड़ी स्ट्रीट लाइटों को ठीक न कराने पर राइट टू सर्विस कमीशन ने नगर निगम को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। आगामी 13 अक्टूबर तक निगम प्रशासन को आयोग में जवाब दाखिल करना है। नगर निगम को शिकायत मिलने के दस दिन के अंदर इस समस्या का समाधान करना था। लेकिन एक महीने बाद तक स्ट्रीट लाइटों को चालू नहीं कराय जा सका।सैनिक कॉलोनी डी ब्लॉक निवासी तरुण चोपड़ा ने बताया कि उनकी कॉलोनी में करीब 30 फीसदी स्ट्रीट लाइटें बंद पड़ी है। इस बारे में उन्होंने नगर निगम के एप 311 पर एक महीने पहले शिकायत दर्ज कराई थी लेकिन 30 सितंबर तक बंद पड़ी लाइटों को ठीक नहीं कराया जा सका। इससे कॉलोनी में अंधेरा छाया रहता है। सड़क बनाने के लिए की गई खुदाई से अंधेरे में लाेग गिरकर घायल हो रहे हैं। तरुण ने बताया कि उन्हांेने इसकी शिकायत राइट टू सर्विस कमीशन चंडीगढ़ में की। कमीशन ने इस पर संज्ञान लेते हुए नगर निगम फरीदाबाद को आज कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है। नोटिस का जवाब 13 अक्टूबर तक में देना है। उन्होंने बताया कि नियमानुसार निगम को शिकायत मिलने पर 10 दिन के अंदर बंद लाइटों को ठीक करना था। लेकिन एक माह बाद भी कुछ नहीं हुआ। शिकायकर्ता का कहना है कि नाकारा निगम अधिकारियों के चलते शहर की जनता को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।


Source: Dainik Bhaskar October 01, 2022 22:42 UTC



Loading...
Loading...
  

Loading...