street dog murder: पत्नी को कुत्ते ने काटा तो पति ने पीटकर कर दी हत्या, केस दर्ज - man batters stray dog to death after it bites his wife crowd gathers but no one stops him

दिल्ली के स्वरूप नगर इलाके में एक आदमी का कुत्ते को बेरहमी से पीटने का विडियो वायरल हो गया। इसके बाद एक जानवरों के लिए काम करनेवाली संस्था ने पिटाई करनेवाले शख्स के खिलाफ पुलिस में शिकायत की है। आरोपी शख्स की पिटाई के कारण स्ट्रीट डॉग की मौत हो गई। आरोपी शख्स राजकुमार की पत्नी को कुत्ते ने काट लिया था, जिसके बाद नाराज नाराज राजकुमार ने बहुत बेरहमी से कुत्ते की पिटाई की।आउटर नॉर्थ के डीसीपी गौरव शर्मा ने बताया कि भलस्वा डेयरी पुलिस स्टेशन ने मामले में आरोपी राजकुमार के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई के लिए एक सीडी और विडियो रिकॉर्डिंग भी पेश की गई है। विडियो में नजर आ रहा है कि आरोपी शख्स एक डंडे से कुत्ते की बहुत बेरहमी से पिटाई कर रहा है।विडियो में नजर आ रहा है कि पिटाई के कारण कुत्ता काफी दर्द में भी नजर आ रहा है, लेकिन शख्स उसकी पिटाई करना नहीं छोड़ता। पिटाई के कारण कुछ देर बार कुत्ते के शरीर से कोई हरकत होती नजर नहीं आती है। हालांकि, विडियो में आसपास काफी लोग नजर आते हैं, लेकिन कोई भी बेजुबान जानवर की मदद करने की कोशिश नहीं करता।इस पूरी घटना के बाद राजकुमार को गिरफ्तार कर लिया गया और कुछ देर बाद बेल पर रिहा भी कर रिया है। पुलिस का कहना है कि शाम के वक्त राजकुमार की पत्नी अपने पालतू कुत्ते के साथ बाहर थी जब स्ट्रीट डॉग ने उन पर हमला कर दिया। इसके बाद राजकुमार ने बहुत बेरहमी से कुत्ते की पिटाई की जिसके कारण उसकी मौत हो गई।

May 25, 2019 07:07 UTC


दीपेंद्र की हार व भाजपा की जीत में मिला यह बड़ा संकेत, जानें वोट का खास गणित

जेएनएन, रोहतक। हरियाणा में भाजपा ने सभी दस लोकसभा सीटों पर जीत दर्ज की, लेकिन रोहतक की सीट यहां अंत तक फंसी रही। प्रदेश में अगर कहीं टक्कर दिखी तो वह सिर्फ रोहतक में। यहां आखिर तक प्रशासन, प्रत्याशियों और उनके समर्थकों की सांसें अटकी रहीं। हालांकि वीरवार सुबह से शुक्रवार तड़के तक हुई मतगणना से तस्वीर साफ हो गई। EVM से डाले गए मतों में भाजपा के प्रत्याशी डॉ. अरविंद शर्मा आगे रहे। इसके साथ ही Postal ballot paper भी अरविंद के पक्ष में सर्वाधिक पाए गए। इससे यह भी साफ संकेत मिले कि लगातार यह कहा जा रहा था कि कर्मचारी वर्ग सरकार से नाराज है, लेकिन Postal ballot paper की गिनती ने यह साफ कर दिया कि वह सरकार से नाराज नहीं हैं।कांग्रेस प्रत्याशी दीपेंद्र सिंह हुड्डा को EVM के मतों में पिछड़ने के बाद लग रहा था कि Postal ballot paper को लेकर उम्मीदें बनी हुई थीं। लेकिन करीब 4423 Postal ballot paper रद होने से दीपेंद्र की हार तय हो गई थी। इन्हीं रिजेक्ट मतों को लेकर आखिरी समय तक राजनीति गर्माई रही। यही कारण रहा कि शुक्रवार की सुबह 3.45 बजे डॉ. अरविंद की जीत को लेकर घोषणा हो सकी। पोस्ट बैलेट में भाजपा के खाते में 7603 व दीपेंद्र के खाते में 2736 मत गए।मतगणना के बाद निर्दलीय प्रत्याशियों को भी राजनीति में हकीकत का पता चल गया। इस दफा आठ निर्दलीय प्रत्याशी मैदान में थे। इन सभी प्रत्याशियों को 8333 मत मिले। पांच निर्दलीय प्रत्याशी तो तीन अंकों के मतों में ही सिमट गए। सिर्फ तीन ही निर्दलीय प्रत्याशी चार अंकों तक मत पा सके। Postal ballot paper के मतपत्रों की मतगणना के दौरान 62 मत नोटा के लिए भी पड़े, जबकि कुल नोटा के मतों की बात करें तो 3001 मतदाताओं ने पसंद किया।पांच विस क्षेत्रों में कांग्रेस तो चार में भाजपा को मिली बड़ी जीतहरियाणा की सबसे हॉट रोहतक लोकसभा पर जीत से भाजपा पूरी तरह से उत्साहित है, लेकिन कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ के विधानसभा क्षेत्र में हार भी हुई है। रोहतक लोकसभा क्षेत्र में नौ विधानसभा में कांग्रेस प्रत्याशी ने पांच तो चार में भाजपा ने बड़े अंतर से जीत हासिल की है। भाजपा ही नहीं पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के लिए भी आगामी विधानसभा चुनाव खतरे की दस्तक हैं, क्योंकि रोहतक शहर के अलावा कलानौर में कांग्रेस की हार और महम में जीत का अंतर पहले से कम होना उनके लिए भी कठिन डगर मानी जा रही है।भाजपा प्रत्याशी डॉ. अरविंद शर्मा कड़े मुकाबले के बाद रोहतक की सीट जीतने में कामयाब हो गए। रेवाड़ी जिला के कोसली विधानसभा से रिकार्ड 74 हजार 890 की भाजपा की जीत में निर्णायक साबित हुई है। हालांकि यहां से भाजपा से ही विक्रम ठेकेदार विधायक हैं और पहले से ही कांग्रेस यहां से भाजपा की बढ़त मानकर चल रही थी, लेकिन झज्जर जिला के बादली विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की हार हुई है क्योंकि यहां से कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ विधायक हैं। पांच विधानसभा क्षेत्रों में कांग्रेस को बढ़त मिली है। लेकिन कलानौर से हार कांग्रेस के लिए खतरनाक साबित हुई।रोहतक लोकसभा में जीत के साथ ही भाजपा ने कांग्रेस और भूपेंद्र सिंह हुड्डा के गढ़ कहे जाने वाले कलानौर विधानसभा क्षेत्र में भी सेंध लगा दी है। राजनीतिक विश्लेषक चुनाव होने के बाद यहां से कांगेस प्रत्याशी दीपेंद्र सिंह हुड्डा की बढ़त का दावा कर रहे थे, लेकिन चुनावी नतीजों ने सभी को चौंकाते हुए भाजपा प्रत्याशी अरविंद शर्मा को जीत का आशीर्वाद दिया।दरअसल, कलानौर में किसी भी कार्यक्रम में पहुंचे हुड्डा परिवार सार्वजनिक मंच से कलानौर और सांघी को अपने परिवार का हिस्सा मानते थे। भूपेंद्र सिंह हुड्डा के पिता चौधरी रणबीर सिंह हुड्डा संयुक्त पंजाब के समय में कलानौर से मंत्री भी रह चुके हैंं। यही नहीं भूपेंद्र सिंह हुड्डा और दीपेंद्र सिंह हुड्डा को जितवाने में कलानौर की हमेशा से ही अहम भूमिका रही है। लोकसभा चुनाव के दौरान खुद मुख्यमंत्री ने विजय संकल्प रैली के दौरान अपने आप को कलानौर का बेटा होने की बात कहकर भाजपा प्रत्याशी के पक्ष में वोट मांगे थे।कलानौर विधानसभा पर कांग्रेस का ही ज्यादा दबदबा रहाकलानौर विधानसभा चुनाव में इस सीट पर लगभग कांग्रेस का ही दबदबा रहा है। 1991 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी करतार देवी ने इनेलो के हरदूल सिंह को हराकर इस सीट पर कब्जा किया था। वहीं 1996 में भी करतार देवी ने भाजपा के जय नारायण खुंडिया को हराकर फिर जीत हासिल की थी। 2000 के चुनाव में भाजपा प्रत्याशी सरिता नारायण ने करतार देवी को हराकर भाजपा की जीत का परचम यहां लहराया था।कांग्रेस की प्रत्याशी करतार देवी ने फिर वापसी करते हुए 2005 के विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की थी। करतार देवी की मृत्यु के बाद 2009 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने शकुंतला खटक ने इनेलो के नागाराम वाल्मीकि को हराकर इस सीट पर फिर कांग्रेस का कब्जा किया। 2014 के चुनाव में शकुंतला खटक ने भाजपा के रामअवतार वाल्मीकि को हराकर फिर कांग्रेस का परचम यहां से लहराया।कृषि मंत्री का क्षेत्र पिछड़ा कौशिक जिताने में रहे सफलकृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ बादली से विधायक हैं, लेकिन लोकसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी बादली से 11554 की बढ़त लेने में सफल रहे। यह कृषि मंत्री के लिए चिंता का विषय बन गया है। भाजपा संगठन भी इसको लेकर गंभीर है, लेकिन बहादुरगढ़ से भाजपा विधायक नरेश कौशिक अपना रूतबा कायम करने में कामयाब रहे।किंगमेकर बनकर निकले सहकारिता मंत्री ग्रोवरसहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर लोकसभा चुनाव में एक तरह से किंगमेकर बनकर उभरे हैं। रोहतक नगर निगम मेयर का चुनाव जीतने के बाद ही मंत्री ग्रोवर ने दावा किया था कि रोहतक से दीपेंद्र सिंह हुड्डा को हरा सकते हैं और हराएंगे। रोहतक विधानसभा में जहां 2014 में दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने काफी बढ़त ली थी।हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करेंपंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करेंलोकसभा चुनाव और क्रिकेट से

May 25, 2019 07:07 UTC


बॉल टैम्परिंग / पनेसर ने कहा- गेंद को रफ करने के लिए उसे ट्राउजर की चेन से रगड़ता था

Dainik Bhaskar May 25, 2019, 01:25 PM ISTइंग्लैंड के पूर्व स्पिन गेंदबाज मोंटी पनेसर ने कहा- बॉल को रिवर्स स्विंग कराने के लिए ऐसा करते थेमोंटी ने इंग्लैंड के लिए 2006 से 2013 के बीच 50 टेस्ट, 26 वनडे और एकमात्र टी20 खेलाखेल डेस्क. इंग्लैंड के पूर्व स्पिन गेंदबाज मोंटी पनेसर ने बॉल टैम्परिंग (बॉल से छेड़छाड़) को लेकर एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। वे बॉल को रिवर्स स्विंग में मददगार बनाने के लिए सनस्क्रीन लोशन, मिंट और ट्राउजर की चेन को इस्तेमाल किया करते थे। यह बात पनेसर ने अपनी आत्मकथा ‘द फुल मोंटी’ में बताई है।डेली मेल पर भारतीय मूल के मोंटी पनेसर की किताब का एक अंश प्रकाशित हुआ। इसमें पनेसर ने कहा कि जेम्स एंडरसन के अनुसार मुझे बॉल को सूखा रखने के लिए कहा जाता था। इसके लिए वे ऐसा करते थे और एंडरसन की पसंद के अनुसार बॉल को तैयार करते थे। एंडरसन ने मोंटी के इस खुलासे पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।पनेसर ने कहा- बॉल को चेन पर रगड़ना हमारी गलती37 साल के पनेसर ने कहा कि हम लोगों ने कानून को तोड़ा है या नहीं, ये इस बात पर निर्भर करता है कि आप पूरे वाकये की व्याख्या कैसे करते हैं। हमने पाया था कि मिंट, सनस्क्रीन लोशन और लार से बॉल को रिवर्स कराने में काफी मदद मिलती है, तो हमने किया। उन्होंने कहा कि बॉल को रफ करने के लिए वे ट्राउजर की चेन को थोड़ा ऊपर करके उस पर बॉल को रगड़ लिया करते थे। इस बात को हम गलती मानते हैं।क्रिकेट में वापसी की इच्छा जता चुके पनेसरपनेसर ने इंग्लैंड के लिए अंतिम मैच मेलबर्न में हुई 2013-14 की एशेज सीरीज में खेला था। हाल ही में उन्होंने इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन को दिए इंटरव्यू में क्रिकेट में वापसी की इच्छा जताई थी। साथ ही उन्होंने अपनी मानसिक बीमारी के बारे में भी बात की थी। मोंटी ने इंग्लैंड के लिए 2006 से 2013 के बीच 50 टेस्ट खेले हैं। इनमें 34.71 की औसत से 167 विकेट लिए। उन्होंने 26 वनडे में 40.83 की औसत से 24 विकेट हासिल किए। पनेसर ने एकमात्र टी20 इंटरनेशनल में 2 विकेट लिए हैं।

May 25, 2019 07:03 UTC


car accident in meerut: मेरठः हरिद्वार जा रहे परिवार की कार नहर में गिरी, 3 बच्चों समेत 6 की मौत - suv fall down in meerut canal six killed including three children

घटना के बाद बिलखती महिलाहादसे के बाद जुटी लोगों की भीड़उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में शनिवार तड़के एक दर्दनाक हादसे में एक ही परिवार के छह लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में तीन बच्चे भी शामिल हैं। हादसे का शिकार हुए परिवार के चार लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया है। बताया जा रहा है कि सभी कार सवार हरिद्वार गंगा नहाने जा रहे थे तभी रास्ते में उनकी कार नहर में गिर गई।पुलिस ने बताया कि संदीप गुप्ता देवरिया के पिंडी गांव के रहने वाले थे। वह अपने परिवार के साथ गुरुग्राम में अपनी साली के आए थे। यहां पर साली के घर रुकने के बाद उनके परिवार के साथ एसयूवी कार में सवार होकर गंगा स्नान करने हरिद्वार के लिए निकले थे।शनिवार सुबह लगभग पांच बजे कार मेरठ के रोहटा क्षेत्र में जटपुरा गांव के पास पहुंची कि तभी अचानक कार के पहिया में पंक्चर हो गया। कार पंक्चर होने से तेज रफ्तार कार अनियंत्रित हो गई और पास में बह रही गंगनहर में जा गिरी।हादसे में कार में सवार दस लोगों में से तीन बच्चों अंशिका (3), अंशु गुप्ता (8) और आशुतोष गुप्ता (5 ) के अलावा रिंकी (25), संदीप गुप्ता (30) और कार चालक विक्की यादव की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद आसपास के लोगों ने कार का बमुश्किल नहर से बाहर निकाला।कार को बाहर निकालकर उसमें से सोनी (19), शालिनी (21), देवी गुप्ता (30), आशा गुप्ता (32) को जीवित निकाला गया। देवी गुप्ता, आशा गुप्ता और शालिनी को अस्पताल में भर्ती कराया। कार से मिले कागजात के आधार पर पुलिस ने परिवार की पहचान की। पुलिस ने परिजनों को हादसे की सूचना दे दी है और शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है।

May 25, 2019 07:01 UTC


क्या दिल्ली विधानसभा चुनाव-2020 में AAP को एक भी सीट नहीं मिलेगी?

नई दिल्ली (संतोष कुमार सिंह)। लोकसभा और विधानसभा चुनाव के मुद्दे और चेहरे अलग होते हैं, इसलिए दोनों के परिणाम भी अलग देखने को मिलते हैं। इसके बावजूद यदि इसे लोकसभा चुनाव परिणाम के आईने में विधानसभा के नजरिये से देखें तो 65 विधानसभा क्षेत्रों में जहां भाजपा ने दम दिखाया, वहीं पांच पर कांग्रेस आगे रही है। वहीं 70 में से 67 सीटें जीतकर दिल्ली की सत्ता संभाल रही आम आदमी पार्टी (AAP) एक भी सीट जीतने में नाकाम रही है।विधानसभा चुनाव में मात्र तीन सीटों पर सिमट गई भाजपा को लोकसभा चुनाव में सातों सीटों पर भारी अंतर से जीत मिली है। भाजपा को मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में नुकसान हुआ है। चांदनी चौक संसदीय क्षेत्र के चांदनी चौक, मटिया महल और बल्लीमरान विधानसभा क्षेत्र में पार्टी दूसरे नंबर पर रही है। इन तीनों सीटों पर कांग्रेस बढत बनाने में सफल रही है।इसी तरह से पूर्वी दिल्ली संसदीय क्षेत्र के ओखला में और उत्तर-पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र के सीलमपुर विधानसभा क्षेत्र में भी भाजपा को बढ़त नहीं मिली। इन दोनों सीटों पर भी कांग्रेस का दबदबा रहा। ओखला में कांग्रेस के अर¨वदर ¨सह लवली को 5688 मतों से बढ़त मिली है।वहीं, सीलमपुर में कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी से 27,609 मतों से आगे रहीं।62 विस क्षेत्रों में AAP व कांग्रेस के कुल मतों से ज्यादा वोट भाजपा को मिलेआम आदमी पार्टी व कांग्रेस के बीच गठबंधन होने के बावजूद भाजपा दिल्ली की सातों सीटों पर जीत हासिल कर सकती थी। सभी संसदीय सीटों पर दोनों के कुल मतों से ज्यादा भाजपा प्रत्याशियों को वोट मिले हैं। बात अगर विधानसभा क्षेत्रों की करें तो इसमें भी पांच सीटों पर दूसरे नंबर पर आने के बाद सिर्फ तीन विधानसभा क्षेत्रों में ही भाजपा के साथ किसी दल का नजदीकी मुकाबला रहा।उत्तर-पूर्वी दिल्ली में आने वाले बाबरपुर व मुस्तफाबाद जैसे मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में भाजपा आगे तो रही, लेकिन कांग्रेस से उसे जोरदार टक्कर मिली है। इसी तरह से उत्तर पश्चिमी दिल्ली के सुल्तानपुर माजरा में भी कांग्रेस ने भाजपा को टक्कर देने की कोशिश की।47 विस क्षेत्रों में AAP तो 23 में कांग्रेस तीसरे नंबर परकांग्रेस ने इस चुनाव में अपने मत फीसद में सुधार किया है। पार्टी को 2014 के लोकसभा चुनाव में 15 तो विधानसभा चुनाव में दस फीसद से भी कम मत मिले थे, जबकि इस लोकसभा चुनाव में उसे 22.5 फीसद मत मिले हैं, वहीं AAP को 18 फीसद मत मिले हैं। यही नहीं कांग्रेस 42 विधानसभा क्षेत्रों में दूसरे स्थान पर रही है।AAP 47 विधानसभा क्षेत्रों में तीसरे नंबर पर पिछड़ गई है, जबकि 23 में वह दूसरे स्थान पर रही। हालांकि, दक्षिणी दिल्ली संसदीय क्षेत्र में आने वाले सभी दसों विधानसभा क्षेत्रों में वह दूसरे नंबर पर रही है। इस तरह के चुनाव परिणाम से भाजपा नेता उत्साहित हैं। उन्हें उम्मीद है कि कुछ माह बाद होने वाले विधानसभा चुनाव में भी भाजपा का कमोबेश ऐसा ही प्रदर्शन होगा। दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी 60 सीटें जीतने का दावा कर रहे हैं।दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिकलोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

May 25, 2019 06:44 UTC


इस देश की जेल में कैदियों के बीच झड़प, 29 की मौत और 18 सुरक्षाकर्मी घायल

वेनेजुएला के जेल में झड़प में 23 कैदियों की मौतवेनेजुएला की एक जेल में हथियारबंद कैदियों और सुरक्षाकर्मियों के बीच झड़प में कम से कम 29 कैदी मारे गए. वलेरो ने बताया कि कैदियों ने अंधाधुंध गोलियां चलाईं और तीन हथगोले भी फेंके। इसमें 19 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. देखें एशिया के पहले समलैंगिक जोड़े की शादी की VIDEO...सोशल मीडिया पर हुई VIRALउन्होंने बताया कि झड़प में कम से कम 18 सुरक्षाकर्मी घायल हुए हैं. वेनेजुएला में कैदियों की इस तरह की मरने की खबरें आती रहती हैं. वहीं, वेनेजुएला की जेलों में होने वाली झड़पों में 2017 से अभी तक 130 से ज्यादा कैदियों की मौत हो चुकी है.

Source:NDTV

May 25, 2019 06:35 UTC


Tags
Cryptocurrency      African Press Release      Lifestyle       Hiring       Health-care       VMware

Loading...