गलती / ब्रिटिश एयरवेज की फ्लाइट को डसेलडर्फ जाना था, 1200 किमी दूर एडिनबर्ग पहुंच गई

ब्रिटिश एयरवेज की एक फ्लाइट ने लंदन के सिटी एयरपोर्ट से जर्मनी के डसेलडर्फ एयरपोर्ट के लिए उड़ान भरी। लेकिन, गलती से फ्लाइट 1200 किलोमीटर दूर स्कॉटलैंड की राजधानी एडिनबर्ग पहुंच गई। अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि कागजी कार्यवाही में हुई गलती की वजह से यह घटना हुई। यात्रियों को तो इसका पता तब चला, जब एयरपोर्ट पर "वेलकम टू एडिनबर्ग' की घोषणा की गई।ब्रिटिश एयरवेज के अधिकारियों ने बताया कि फ्लाइट को वापस डसेलडर्फ के लिए रवाना कर दिया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, जर्मनी की फर्म डब्ल्यूडीए एक समझौते के तहत यहां ब्रिटिश एयरवेज की फ्लाइट का संचालन करती है।ब्रिटिश एयरवेज ने कहा कि हमने यात्रियों से माफी मांगी है। हम हर यात्री से व्यक्तिगत तौर पर संपर्क कर रहे हैं, जिन्हें गलती की वजह से परेशानी हुई।एयरवेज ने कहा कि पायलट किसी भी जगह पर भ्रमित नहीं हुआ, लेकिन एडिनबर्ग में कागजी कार्यवाही में हुई गलती की वजह से एयर ट्रैफिक कंट्रोल ने उसे उस रूट पर जाने की इजाजत दे दी।लंदन से डसेलडर्फ के लिए उड़ान भरने वाली 24 वर्षीय मैनेजमेंट सलाहकार सोफी कुक ने कहा- जब पायलट ने एडिनबर्ग में उतरने की घोषणा की, तो हमें लगा कि यह कोई मजाक है। मैंने केबिन क्रू से भी पूछा कि क्या आप मजाक कर रहे हैं।पायलट ने सबसे पूछा कि क्या आप सभी एडिनबर्ग जाना चाहते हैं, अगर ऐसा है तो आप अपना हाथ उठा दीजिए। पायलट ने बताया कि उसे कोई आइडिया नहीं था कि यह कैसे हुआ। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ था। क्रू पूरी कोशिश कर रहा था कि यात्रियों की मदद की जा सके।सोफी ने बताया- डसेलडर्फ के लिए उड़ान भरने से पहले प्लेन एडिनबर्ग पर ही रुका रहा। मैं बहुत हताश हो गई थी। टॉयलेट ब्लॉक हो गए थे और फ्लाइट स्टाफ के पास स्नैक्स भी नहीं थे।

March 26, 2019 01:52 UTC


बेगूसराय सीट से लड़ने में आनाकानी करने के पीछे गिरिराज सिंह का आत्म सम्मान या कन्हैया कुमार?

इसी क्रम में बीजेपी ने गिरिराज सिंह को नवादा सीट की जगह बिहार के बेगूसराय से टिकट दिया है. बता दें कि बिहार में बीजेपी ने सिर्फ गिरिराज सिंह की ही सीट को बदला है. गिरिराज सिंह को लगता है कि बीजेपी की राज्य इकाई ने बेगूसराय से उनकी दावेदारी का फैसला लिया है. हालांकि, अगर गिरिराज सिंह बेगूसराय से ही लड़ते हैं तो यहां पर दो बड़े उम्मीदवार ऐसे हैं, जो भूमिहार जाति से ही आते हैं. कन्हैया ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी कहा था कि बेगूसराय में मुकाबला उनके और गिरिराज सिंह के बीच ही है.

Source:NDTV

March 26, 2019 01:50 UTC


आईपीएल / चेन्नई से मैच आज, घरेलू मैदान पर दिल्ली 43% मुकाबलों में ही कामयाब रही

Dainik Bhaskar Mar 26, 2019, 07:15 AM ISTमैच का प्रसारण स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क पर रात 8 बजे सेदोनों टीमों ने अपने पहले मैच जीते, 2-2 अंक हासिल किएखेल डेस्क. इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण का पांचवां मुकाबला सोमवार को फिरोजशाह कोटला स्टेडियम पर दिल्ली कैपिटल्स और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच खेला जाएगा। दोनों टीमें टूर्नामेंट में अपने पहले मैच जीत चुकी हैं। दिल्ली ने मुंबई और चेन्नई ने बेंगलुरु को हराकर 2-2 अंक हासिल किए हैं। हालांकि, नेट रनरेट के आधार पर दिल्ली अंकतालिका में पहले और चेन्नई दूसरे नंबर पर है। दिल्ली का नेट रनरेट +1.850 और चेन्नई का +0.519 है।इस मैदान पर दिल्ली ने आईपीएल के अब तक 67 मैच खेले हैं। इनमें से वह 29 को जीतने में सफल रही है, जबकि 36 में उसे हार का सामना करना पड़ा है। एक मुकाबला बेनतीजा रहा, जबकि एक मैच रद्द कर दिया गया था। चेन्नई ने इस मैदान पर अब तक 8 मैच खेले हैं। इनमें से वह 5 को जीतने में सफल रही, जबकि 3 में उसे हार का सामना करना पड़ा है।दिल्ली के खिलाफ चेन्नई का सक्सेस रेट 34% ज्यादाआईपीएल में महेंद्र सिंह धोनी की अगुआई वाली चेन्नई सुपरकिंग्स और श्रेयस अय्यर की कप्तानी वाली दिल्ली कैपिटल्स के बीच अब तक 18 बार भिड़ंत हो चुकी है। इनमें से चेन्नई 12 और दिल्ली की टीम 6 मैच जीतने में सफल रही है। दोनों के बीच हुए पिछले 5 मुकाबलों में चेन्नई ने 3 और दिल्ली ने 2 जीते हैं।कोटला पर भी दिल्ली का पलड़ा भारीकोटला पर दिल्ली और चेन्नई के बीच कुल 6 मैच खेले गए हैं। इनमें से दिल्ली को 4, जबकि चेन्नई को 2 मैच में जीत हासिल हुई है। कोटला पर दिल्ली का हाइएस्ट स्कोर 187 और चेन्नई का 190 रन है। चेन्नई का इस मैदान पर न्यूनतम स्कोर 110/8 है, जो उसने 10 अप्रैल 2012 को बनाया था।5 साल पहले 100 के भीतर सिमट गई थी दिल्लीइस मैदान पर दिल्ली का न्यूनतम स्कोर 83/10 है, जो उसने 18 अप्रैल 2013 को चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ बनाया था। वह मुकाबला चेन्नई ने 6 विकेट से जीता था। उस मैच में चेन्नई के मोहित शर्मा ने 3 ओवर में 10 रन देकर 3 विकेट लिए थे। वहीं, चेन्नई के माइक हसी ने 50 गेंद पर 6 चौके और 2 छक्के की मदद से 65 रन की पारी खेली थी।आखिरी भिड़ंत ने दिल्ली ने बाजी मारी थीदोनों के बीच आखिरी मैच पिछले साल 18 मई को दिल्ली के घरेलू मैदान पर हुआ था। उस मैच में दिल्ली ने चेन्नई को 34 रन से हरा दिया था। उस मैच में धोनी ने टॉस जीतकर फील्डिंग चुनी थी। दिल्ली ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 5 विकेट पर 162 रन बनाए थे। लक्ष्य का पीछा करने उतरी चेन्नई 20 ओवर में 6 विकेट पर 128 रन ही बना पाई थी।कोटला पर पिछले 5 मैच में दिल्ली का सक्सेस रेट 60%फिरोजशाह कोटला पर हुए पिछले 5 मुकाबलों में से दिल्ली की टीम 3 में जीत हासिल करने में सफल रही है। दिल्ली ने कोटला पर अपना आखिरी मैच पिछले साल 20 मई को मुंबई इंडियंस के खिलाफ खेला था। तब वह मुंबई को 11 रन से हराने में सफल रही थी। उस मैच में दिल्ली के अमित मिश्रा ने 19 रन देकर 3 विकेट लिए थे।दोनों टीमें इस प्रकार हैं :चेन्नई सुपरकिंग्स : महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), सुरेश रैना, अंबाती रायडू, शेन वाटसन, फाफ डुप्लेसिस, मुरली विजय, केदार जाधव, सैम बिलिंग्स, रविंद्र जडेजा, ध्रुव शोरे, चैतन्य बिश्नोई, रितुराज गायकवाड़, ड्वेन ब्रावो, कर्ण शर्मा, इमरान ताहिर, हरभजन सिंह, मिशेल सैंटनर, शार्दुल ठाकुर, मोहित शर्मा, केएम आसिफ, डेविड विले, दीपक चाहर, एन. जगदीशन।दिल्ली कैपिटल्स : श्रेयस अय्यर (कप्ताान), आवेश खान, ट्रेंट बोल्ट, शिखर धवन, बंडारू अयप्पा, अंकुश बैंस, संदीप लमिछने, मनजोत कालरा, अमित मिश्रा, क्रिस मोरिस, कॉलिन इनग्राम, कॉलिन मुनरो, ऋषभ पंत, अक्षर पटेल, हर्षल पटेल, कीमो पॉल, कगिसो रबादा, जलज सक्सेना, शेरफेन रूदरफोर्ड, ईशांत शर्मा, पृथ्वी शॉ, राहुल तेवतिया, हनुमा विहारी, नाथू सिंह।

March 26, 2019 01:41 UTC


कार्तिक के आक्रोशित परिजनों ने कहा, मंत्री का वादा झूठा, करेंगे सीएम के रोड शो का विरोध

कार्तिक के आक्रोशित परिजनों ने कहा, मंत्री का वादा झूठा, करेंगे सीएम के रोड शो का विरोधसंवाद सूत्र, थर्मल : बस के पहिये के नीचे कुचले गए मासूम कार्तिक के परिजनों ने सोमवार को कच्चा कैंप में बैठक कर रोष जताया। उन्होंने आरोप लगाया कि परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार के आश्वासन के बाद भी पुलिस आरोपित बस चालक व स्कूल प्रबंधक को गिरफ्तार नहीं किया। मंत्री का वादा झूठा रहा। उन्हें न्याय नहीं मिला तो वे मंगलवार को सीएम के रोड शो में बाधा पहुंचाएंगे।पीड़ित पिता संजय कुमार व मां रजनी ने कहा कि पुलिस आरोपितों के दबाव में है। सात दिन से आरोपित खुले में घूम रहे हैं और पुलिस सिर्फ छापामारी का दिखावा कर रही है। वे सीएम को ज्ञापन सौंपेंगे। अगर फिर भी सुनवाई नहीं हुए तो भूख हड़ताल पर बैठेंगे। इस मौके पर संजय कुमार, नरेन्द्र कुमार, निर्मला, मदन लाल, आरती और संतोष मौजूद रहीं।इस बारे में थाना मॉडल टाउन प्रभारी हरविद्र सिंह का कहना है कि आरोपित चालक व स्कूल प्रबंधक के संभावित ठिकानों पर छापामारी की जा रही है। जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।यह है मामला19 मार्च को पूरेवाल कॉलोनी के संजय पाहुजा की पत्नी रजनी, बहन शालू, सलहज प्रिया, मां संतोष और परिवार के अन्य सदस्य आसन कलां के गुरुद्वारा जोध सचियार में सत्संग सुनने गए थे। वे सब जोध सचियार पब्लिक स्कूल की बस से ही वापस आ रहे थे। संजय का पांच साल का बेटा कार्तिक बड़े भाई जतिन के साथ सीट पर बैठा था।खुखराना के पास ब्रेकर आते ही पहिये के ऊपर रखा लकड़ी का फट्टा खिसक गया और कार्तिक खाली जगह से नीचे निकल गया। पिछले पहिये ने उसका सिर कुचल दिया। थाना मॉडल टाउन मे आरोपित चालक व स्कूल प्रबंधक के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया था।Posted By: Jagran

March 26, 2019 01:07 UTC


Tags
Cryptocurrency      African Press Release      Lifestyle       Hiring       Health-care       VMware

Loading...