पश्चिम बंगाल में BJP की जबरदस्त सफलता से हैरान ममता बनर्जी ने TMC की बैठक बुलाई, इन मुद्दों पर होगी चर्चा

तृणमूल कांग्रेस (TMC) को इस बार 42 सीटों में से 22 सीटें ही मिलीं, जबकि साल 2014 में ममता बनर्जी की पार्टी को 34 सीटें मिली थीं. ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने अब लोकसभा चुनावों में राज्य में बीजेपी के चौंकाने वाले प्रदर्शन के बाद शनिवार को अपने आवास पर पार्टी नेताओं की आपात बैठक बुलाई है. बताया जा रहा है कि शनिवार को टीएमसी (TMC) की बैठक में लोकसभा चुनाव के नतीजों और 2021 में होने वाले राज्य विधानसभा चुनावी की रणनीति पर चर्चा होगी. पार्टी के कुछ नेताओं का कहना है कि विधानसभा चुनावों में लोग फिर से टीएमसी (TMC) का साथ देंगे. हमारे लोगों ने वोट के जरिए तृणमूल कांग्रेस की प्रताड़ना का जवाब दिया है."

Source:NDTV

May 25, 2019 06:00 UTC


Results 2019: चुनाव में जीत के बाद जनरल वीके सिंह ने कहा- बड़ी जीत के बाद बड़ी जिम्मेदारी भी आती है

खास बातें जीत के बाद NDTV से जनरल वीके सिंह ने की बात कहा- बड़ी ताकत के साथ बड़ी जिम्मेदारी भी आती है बोले- विपक्ष तो कुछ समय से बीमार चल रहा हैयूपी की गाजियाबाद लोकसभा सीट से जीत हासिल करने वाले जनरल वीके सिंह (V.K. मुझे बड़ी जीत मिली है इसलिए मुझ पर जिम्मेदारी भी ज्यादा है. ये हमारी सरकार की नीतियों की जीत है. वहीं कांग्रेस को पिछली बार से 8 सीटें ज्यादा मिली है और कुल 52 सीटों के स्कोर पर काबिज है. चुनाव परिणाम के अंतिम रुझानों में देश की 542 लोकसभा सीटों में भाजपा की 303 सीटों पर जीत तय हो चुकी है और घटक दलों की बात करें तो एनडीए ने इस चुनाव में 353 सीटें अपने नाम की हैं.

Source:NDTV

May 25, 2019 06:00 UTC


Tirong Abo: अरुणाचल प्रदेश: आतंकियों ने जिस MLA की हत्या की, रिजल्ट में हुए विजयी - arunachal mla killed in ambush by nscn(im) rebels retains seat

अरुणाचल प्रदेश के विधायक तिरॉन्ग अबो मर कर भी लोगों के दिलों को हमेशा के लिए जीत गए। विधानसभा चुनाव के नतीजों में तिरॉन्ग ने जीत दर्ज कर ली, लेकिन दुखद यह है कि अपनी इस जीत को देखने के लिए वह इस दुनिया में नहीं हैं। नतीजों से दो दिन पहले ही उग्रवादियों ने तिरॉन्ग सहित 11 लोगों की हत्या कर दी थी।नैशनल पीपल्स पार्टी के टिकट पर अरुणाचल प्रदेश की खोंसा (वेस्ट) सीट से चुनाव लड़ रहे तिरॉन्ग ने इस बार बीजेपी के प्रत्याशी फवांग लोवांग को हरा दिया। 10 हजार के मतदाताओं की संख्या वाले क्षेत्र में तिरॉन्ग ने 1055 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की। उन्हें कुल मतों का 55 फीसदी हासिल हुआ। अब चुनाव आयोग की तरफ से जल्दी ही यहां पर 6 महीने के अंदर उपचुनाव की घोषणा की जाएगी।बता दें कि 21 मई को तिरप जिले के खोंसा के पास एनपीपी विधायक तिरॉन्ग अबो और उनके परिवार समेत कुल 11 लोगों को गोली मारकर उनकी हत्या कर दी गई थी। अबो मंगलवार को असम के डिब्रूगढ़ से खोन्सा जा रहे थे, तभी रास्ते में एनएससीएन (आई-एम) के संदिग्ध आतंकियों ने विधायक, उनके बेटे सहित 11 लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी। घटनास्थल खोन्सा से करीब 20 किलोमीटर दूर है। तिरोंग अबो (41) ने खोन्सा पश्चिम विधानसभा सीट से 2014 में जीत दर्ज की थी और इस बार वह नैशनल पीपल्स पार्टी (एनपीपी) के टिकट पर मैदान में थे।इस हत्याकांड के बाद इंडियन आर्मी ने सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है। अपराधियों की तलाश के लिए आर्मी ने तिरप, लॉन्गदॉन्ग और चांगलांग जिलों के आसपास के क्षेत्र में सर्च ऑपरेशन चलाया है। अपराधियों की तलाश के लिए आर्मी के साथ-साथ स्पेशल फोर्सेज के जवान भी उतारे गए हैं। आर्मी ने कहा है कि रात में भी सर्च ऑपरेशन जारी करने के लिए रात में भी उड़ सकने और नाइट विजन वाले खास हेलिकॉप्टर भी लगाए गए हैं। हेलिकॉप्टर के अलावा जासूसी वाले हेलिकॉप्टर और खोजी कुत्ते भी साथ लिए गए हैं। आर्मी पुलिस, प्रशासन और इंटेलिजेंस के साथ मिलकर काम कर रही है, जिससे हत्या में शामिल लोगों के बारे में पता लगाया जा सके। आर्मी ने यह भी भरोसा दिलाया है कि वह जल्द ही इस हत्याकांड में शामिल सभी अपराधियों को पकड़ लेगी।तिरप जिले में हाल फिलहाल में यह दूसरी ऐसी घटना है। इससे पहले, मार्च में एनएससीएन (आईएम) के आतंकवादियों ने अबो के दो समर्थकों की हत्या कर दी थी। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह और केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू और अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने हमले की निंदा की है। घटना पर हैरानी जताते हुए एनपीपी के अध्यक्ष और मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड संगमा ने हमले के लिए जिम्मेदार तत्वों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

May 25, 2019 05:42 UTC


लाखों की गाड़ी पर महिला ने पोत दिया गाय का गोबर, वजह बताते हुए बोलीं - मेरी कार को गर्मी...

चिलचिलाती गर्मी की तपिश से गाय के गोबर का इस्तेमाल करके अपनी कार को ठंड़ा रखना हममें से कई के लिए कोई सही प्रस्ताव नहीं हो सकता है. यह सब हुआ अहमदाबाद (Ahmedabad) में, जहां एक महिला ने अपनी लाखों की टोयोटा की लग्जरी कोरोला एल्टिस (Toyota Corolla Altis) कार को गर्मी से बचाने के लिए गाय के गोबर से लीप दिया था. सेजल शाह (Sejal Shah) ने इसके जवाब में कहा था कि उन्होंने गर्मी से बचाने के लिए अपनी कार को गोबर से लीप है. मैंने कार को गर्मी से बचाने के लिए उसे गाय के गोबर से लीप दिया.' मैं अपनी कार के एसी को बंद रखती हूं क्योंकि गाय का गोबर उसे अंदर से ठंडा रखता है.'

Source:NDTV

May 25, 2019 05:37 UTC


CWC Meet LIVE Updates: राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश की, CWC सदस्यों ने नहीं किया स्वीकार

Congress Working Committee (CWC) Meeting Updates: लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election) में बीजेपी की शानदार जीत और कांग्रेस की करारी हार हुई. जिसके बाद कांग्रेस ने कार्यसमिति बैठक बुलाई. यहां राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए इस्तीफे की पेशकश की, लेकिन कार्यसमिति के सदस्यों ने स्वीकार (Rahul Gandhi Resignation) नहीं किया. बैठक में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के अलावा प्रियंका गांधी वाड्रा, सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता बैठक में मौजूद रहे. सवाल इस बात का है इन सबके बीच अगर राहुल गांधी अगर कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देते हैं तो पार्टी की बागडोर कौन संभालेगा.

Source:NDTV

May 25, 2019 05:36 UTC


PM Narendra Modi Box Office Collection Day 1: पहले दिन इतने करोड़ की हुई कमाई

नई दिल्ली, जेएनएन। PM Narendra Modi Box Office collection भारत के प्रधानमंत्री पीएम नरेंद्र मोदी पर बनी फिल्म पीएम नरेंद्र मोदी आखिरकार 24 मई को रिलीज हुई। बॉक्स ऑफिस पर फिल्म से काफी उम्मीदें हैं क्योंकि फिल्म लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे आने के महज एक दिन बाद रिलीज हुई है। पहले दिन फिल्म पीएम नरेंद्र मोदी ने 2.88 करोड़ की कमाई दर्ज की है।पीएम नरेंद्र मोदी पर बनी बायोपिक फिल्म ने 24 मई शुक्रवार को सिनेमाघरों में दस्तक दे दी है। बात करें फिल्म के बॉक्स ऑफिस कलेक्शन के पहले दिन की तो फिल्म ने 2.88 करोड़ का व्यापार किया है। यह ओपनिंग का आंकड़ा कम जरूर है लेकिन वीकेंड में फिल्म से अच्छी कमाई की कमाई की उम्मीद की जा रही है। ओमंग कुमार द्वारा निर्देशत फिल्म में विवेक ओबेरॉय ने पीएम नरेंद्र मोदी का अहम किरदार निभाया है। रिपोर्ट के मुताबिक, फिल्म को मोदी लहर का फायदा मिला है जिसकी आशंका भी जताई जा रही थी।वैसे भी फिल्म पीएम नरेंद्र मोदी लगातार सुर्खियों में रही है। फिल्म को लेकर काफी विवाद भी रहा है। इसकी रिलीज तारीख कई बार बदली गई। फिल्म को पहले इस साल अप्रैल में रिलीज किया जाना था, मगर विपक्ष के विरोध के कारण ऐसा हो नहीं पाया। विपक्ष का कहना था कि इस फिल्म के आने से मोदी सरकार को फायदा मिल सकता है और चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन होग। इस कारण से फिल्म को लोकसभा चुनाव तक बैन कर दिया गया था।फिल्म की कहानी की बात करें तो देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के राजनीति में आने यानि छात्र जीवन से लेकर उनके गुजरात के मुख्यमंत्री बनने और फिर देश का प्रधानमंत्री बनने तक की कहानी हैl इस फिल्म में विवेक ओबरॉय को नौ अलग अलग रूप में दिखाया गया हैl इस मूल हिंदी फिल्म को 23 अलग-अलग भाषाओँ में डब कर रिलीज़ करने की योजना थी l स्टारकास्ट की बात करें तो फिल्म में बमन ईरानी (रतन टाटा), मनोज जोशी( अमित शाह), किशोरी शहाणे ( इंदिरा गांधी), जरीना वहाब ( हीराबेन मोदी , नरेंद्र मोदी की माँ) और बरखा बिष्ट सेनगुप्ता ( जसोदाबेन) का भी अहम् रोल हैlयह भी पढ़ें: PM Narendra Modi के लिए Shahrukh Khan का भी आ गया बधाई देने वाला Tweet, लिखी ये बातेंलोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एपPosted By: Rahul soni

May 25, 2019 05:29 UTC


गोरक्षा के नाम पर महिला समेत 3 लोगों की बेरहमी से पिटाई, वीडियो वायरल होने के बाद 5 आरोपी गिरफ्तार

खास बातें गौरक्षकों की गुंडागर्दी का कथित वीडियो तीन लोगों को बंधक बनाकर पिटाई 4 आरोपी जेल भेजे गए, एक आरोपी की होगी पेशीमध्यप्रदेश के सिवनी में गोरक्षा की आड़ में गोरक्षकों की गुंडागर्दी का कथित वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में गोरक्षक एक महिला समेत तीन लोगों को बंधक बनाकर बेरहमी से पीटते नजर आ रहे हैं. वीडियो में गले में गमछा बांधे हुए जिस शख्स की पिटाई हो रही है, उसका नाम दिलीप मालवीय है और उस पर पहले भी गोतस्करी के आरोप लगे हैं. कुल 4 लोगों की पिटाई हुई है, जिसमें गोमांस तस्करी का मुख्य आरोपी हिन्दू है, बाकी तीन मुस्लिम हैं. मांस को जांच के लिए फॉरेंसिक लैब हैदराबाद भेजा गया है, जांच के बाद पता लगेगा कि मांस किस चीज का है.'

Source:NDTV

May 25, 2019 05:20 UTC


CWC Meeting : अगर राहुल गांधी आज देते हैं अध्यक्ष पद से इस्तीफा तो कौन संभालेगा कांग्रेस की बागडोर

बीते साल जब गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान ही राहुल गांधी को कांग्रेस का अध्यक्ष बनाया गया था तो ऐसा लग रहा था कि वह पार्टी को 'खोया गौरव' वापस दिला देंगे. राहुल गांधी को हराने वाली स्मृति ईरानी को मोदी कैबिनेट में इस बार मिल सकती है पहले से भी बड़ी जिम्मेदारीसवाल इस बात का है इन सबके बीच अगर राहुल गांधी अगर कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा देते हैं तो पार्टी की बागडोर कौन संभालेगा. लेकिन उनकी उम्र अब इतनी नहीं है कि वह पूरे देश का दौरा कर पार्टी के कार्यकर्ताओं में जान फूंक सकें. बात करें युवा नेता की तो सचिन पायलट का राजस्थान में जनाधार जरूर है लेकिन उनका अपनी ही पार्टी के अंदर विरोध है. इसके अलावा एके एंटनी और गुलाम नबी आजाद जैसे भी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं लेकिन सवाल इस बात का है क्या ये नेता पूरे देश में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में जान फूंक पाएंगे.

Source:NDTV

May 25, 2019 05:15 UTC


नतीजों के बाद संकट में कांग्रेस : राजस्थान में भी नेतृत्व परिवर्तन की अटकलबाजी, असंतोष के सुर फूटे

राजस्थान कांग्रेस में नेतृत्व परिवर्तन की अटकलबाजी के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट लोकसभा चुनाव में राज्य में पार्टी की पराजय के कारणों को गिनाने गुरुवार से दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं. भाजपा ने राज्य में 24 सीटें जीती, जबकि एक अन्य सीट पर उसकी सहयोगी राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने जीत दर्ज की. पार्टी के एक नेता ने नाम न जाहिर करने के अनुरोध के साथ कहा, "सत्ता के दो केंद्र बनने के कारण हमारी पार्टी में स्थितियां खराब हुईं. सूत्रों ने कहा कि कई नेता सोचते हैं कि पार्टी का नेता कोई एक होना चाहिए. नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने उदयपुर में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि "गहलोत पूरे राज्य में और खुद के क्षेत्र में अपने बेटे को जिताने के लिए दौड़ते रहे."

Source:NDTV

May 25, 2019 05:15 UTC


Tags
Cryptocurrency      African Press Release      Lifestyle       Hiring       Health-care       VMware

Loading...