राहुल गांधी के 'न्यूनतम आय गारंटी' वादे की नीति आयोग ने की आलोचना, बोला- यह कभी लागू नहीं होगा

खास बातें राहुल गांधी ने न्यूनतम आय गारंटी योजना का वादा किया. लोकसभा चुनाव 2019 से ठीक पहले राहुल गांधी ने न्यूनतम आय गारंटी योजना का बड़ा वादा किया. इस वादे के बाद नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने राहुल गांधी पर हमला बोला. कांग्रेस अध्यक्ष ने जिस योजना की घोषणा की है उससे राजकोषीय अनुशासन खत्म होगा, काम नहीं करने को लेकर एक प्रोत्साहन बनेगा और यह कभी क्रियान्वित नहीं होगा.' इस बीच, प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद (पीएमईएसी) ने भी ट्विटर पर गांधी की चुनाव पूर्व घोषणा की आलोचना की है.

Source:NDTV

March 26, 2019 03:17 UTC


जब सुषमा स्वराज ने दिया नितिन गडकरी को आशीर्वाद, सोशल मीडिया पर लोगों ने की तारीफ

बीजेपी के दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में सोमवार को चुनाव को लेकर होने जा रही बैठक में केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज और नितिन गडकरी हिस्सा लेने पहुंचे. बीजेपी के इन दो बड़े नेताओं के बीच जो कुछ हुआ वह कैमरे में कैद हो गया और सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है. दरअसल हुआ यह है कि पार्टी मुख्यालय जैसे ही सुषमा स्वराज पहुंची तभी पीछे से नितिन गडकरी भी आ गए. गडकरी तेज कदमों से सुषमा के पास पहुंचे और उनको झुककर प्रणाम किया. गडकरी से 6 साल वरिष्ठ सुषमा भी पीछे नही रहीं और उन्होंने बहुत सम्मान से नितिन गडकरी की सिर पर हाथ फेरते हुए उनको आशीर्वाद और पीठ भी ठोकी.

Source:NDTV

March 26, 2019 03:11 UTC


Samsung Galaxy: Samsung Galaxy A60 और Galaxy A70 की तस्वीरें और स्पेसिफिकेशन लीक, जल्द होगा लॉन्च

Samsung इस साल अपने नए डिवाइसेज को काफी तेजी से लॉन्च कर रही है। इसी कड़ी में अब कंपनी Galaxy A Series के दो नए डिवाइस Galaxy A60 और Galaxy A70 को लॉन्च करने की तैयारी में जुटी है। गैलेक्सी ए सीरीज के तहत सैमसंग इससे पहले Galaxy A10, Galaxy A20, Galaxy A30 और Galaxy A50 स्मार्टफोन्स को लॉन्च कर चुकी है।पिछले कुछ दिनों में गैलेक्सी ए60 और गैलेक्सी ए70 को लेकर कई खबरें सुनने को मिली हैं। हाल ही में इन दोनों ही स्मार्टफोन्स कुछ तस्वीरें और स्पेसिफिकेशन लीक हुए हैं। सैमसंग इन दोनों फोन्स को 10 अप्रैल को एक इवेंट में पेश करेगी। बताया जा रहा है कि गैलेक्सी ए60 और गैलेक्सी ए70 को TENAA से सर्टिफिकेशन भी मिल चुका है।इतना ही नहीं सैमसंग इसी इवेंट में गैलेक्सी ए90 से भी पर्दा उठा सकती है। गैलेक्सी ए90 के बारे में कहा जा रहा है कि इसमें नॉचलेस न्यू इनफिनिटी डिस्प्ले मौजूद है। माय स्मार्टप्राइस की एक रिपोर्ट के मुताबिक TENAA पर इन स्मार्टफोन्स की लीक्ड स्पेसिफिकेशन को अब तक लिस्ट नहीं किया गया है।TENAA लिस्टिंग में कहा गया है कि सैमसंग गैलेक्सी का कोडनेम SM-A6060 है। सैमसंग इस फोन को इनफिनिटी-वी और इनफिनिटी-यू डिस्प्ले की बजाय इनफिनिटी-ओ डिस्प्ले के साथ पेश कर सकती है। फोन के रियर में एलईडी फ्लैश के साथ ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप और और एक फिंगरप्रिंट स्कैनर मौजूद है। दूसरे गैलेक्सी ए सीरीज के डिवाइसेज की तरह इसमें इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर नहीं दिया जाएगा। फोन को पावर देने के लिए 3410mAh की बैटरी दी गई है।वहीं बात अगर गैलेक्सी ए70 की करें तो इसका कोडमेन SM-A7050 है। फोन में 6.7 इंच का इनफिनिटी-यू डिस्प्ले दिया गया है। गैलेक्सी ए70 इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट स्कैनर के साथ आएगा के साथ आएगा। फटॉग्रफी के लिए इस फोन में एलईडी फ्लैश के साथ ट्रिपल कैमरा सेटअप दिया जा सकता है। फोन में 4400 mAh की बैटरी उपलब्ध है। हालांकि यह फास्ट चार्जिंग सपॉर्ट के साथ आएगा या नहीं इस बारे में अभी कोई जानकारी बाहर नहीं आई है। लीक्ड इमेज के आधार पर कहा जा रहा है कि इन दोनों फोन ग्रेडियंट फिनिश के साथ ग्लास और प्लास्टिक बॉडी डिजाइन में आएंगे।

March 26, 2019 03:00 UTC


जल्द होने वाली थी शादी, जोड़े की गोलियों से छलनी पड़ी मिलीं लाशें

खास बातें गाजियाबाद में हुई अप्रिय घटना एक युगल की मिली लाश पोस्टमार्टम के लिए भेजागाजियाबाद में सोमवार सुबह एक पुरुष और एक महिला के गोलियों से छलनी शव मिले हैं, जिनकी जल्द ही शादी होने वाली थी. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि जीटी रोड कोतवाली पुलिस को हिंडन नदी के निकट साईं उपवन से शव बरामद हुए हैं. इस मामले की विभिन्न कोणों से जांच की जा रही है, जिसमें यह भी पता लगाने की कोशिश की जा रहा है कि दोनों ने आत्महत्या की है या फिर किसी ने उनकी हत्या की. उन्होंने कहा कि मृतकों की पहचान सुरेंद्र उर्फ अनु चौहान और प्रीति के रूप में हुई है. उनके शवों को पोस्टमॉर्टम के लिये भेज दिया गया है.

Source:NDTV

March 26, 2019 03:00 UTC


Mumbai Samachar: सीट के साथ उम्मीदवार मुफ्त - candidate with seat free

भाजपा के राजेंद्र गावित,और नरेंद्र पाटील शिवसेना के चुनाव चिह्न पर लड़ेंगेवसं, मुंबई : लोकसभा चुनाव में नामुमकिन अब मुमकिन लग रहा है। बीजेपी और शिवसेना के बीच सीटों के बंटवारे के समय भीतर खाने में चाहे जिन शर्तों पर बात बनी हो, लेकिन दोनों ही दल अधिक सीट जितने को लेकर लालायित दिख रही है। शिवसेना को सीट और उम्मीदवार दोनों मुफ्त में मिले हैं। पालघर से बीजेपी सांसद राजेंद्र गावित और सातारा से नरेंद्र पाटील ऐसे नेता है, जो अब शिवसेना से चुनाव लड़ेंगे।कांग्रेस-एनसीपी की आघाडी सरकार में राजेंद्र गावित मंत्री थे। सत्ता जाने के बाद वे बीजेपी में शामिल हो गए थे। पालघर से सांसद चिंतामन वनगा के निधन के बाद बीजेपी ने उपचुनाव में राजेंद्र गावित को प्रत्याशी बनाया। इससे नाराज होकर वनगा के बेटे श्रीनिवास वनगा शिवसेना में शामिल हो गए और उपचुनाव में जबरदस्त टक्कर देने के बावजूद हार गए। मौजूदा सांसद होने के चलते यह सीट बीजेपी चाहती थी, लेकिन सीटों के बंटवारे में शिवसेना को मिल गई। अब इस सीट पर शिवसेना से गावित उम्मीदवार होंगे।भोसले के खिलाफ पाटीलमाथाडी कामगार नेता नरेंद्र पाटील को शिवसेना ने सातारा लोकसभा सीट से अपना प्रत्याशी बनाया है। पाटील पहले एनसीपी में थे। बाद में वे राज्य सरकार ने अण्णासाहब पाटील आर्थिक विकास महामंडल का अध्यक्ष बना दिया। इसीलिए वे एनसीपी छोड़ बीजेपी में शामिल हो गए। वे सातारा से लोकसभा चुनाव लड़ने के इच्छुक थे, लेकिन सीट बंटवारे में यह सीट शिवसेना के खाते में चली गई। पिछले दिनों वे शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से मिले थे। सोमवार को कोल्हापुर के युति की सभा में वे शिवसेना में शामिल हुए। इसी मंच से उद्धव ने उनके सतारा से उम्मीदवारी की घोषणा भी कर दी।

March 26, 2019 03:00 UTC


Mumbai Samachar: कद्दू में है कई गुण - pumpkin has many properties

सेहत के नुस्खेबीमारियों से बचाव में भी अहमएनबीटी : कद्दू को ज्यादातर लोग साधारण सब्जी मानते हैं, लेकिन बहुत से लोगों के इसके गुणों की जानकारी नहीं होती है। कद्दू पौष्टिक होने के साथ ही सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है। कद्दू विटामिन डी, विटामिन ए और बीटा कैरोटिन का बहुत अच्छा स्रोत है। इसके अलावा कद्दू में कॉपर, आयरन और फास्फोरस होते हैं। साथ ही इसमें विटामिन बी1, बी2, बी6, सी, ई और बीटा केरोटिन भी भरपूर मात्रा में होते हैं। पीले और संतरी कद्दू में केरोटीन की मात्रा अपेक्षाकृत ज्यादा होती है। बीटा केरोटीन में ऐंटिऑक्सिडेंट होता है जो शरीर में फ्री रेडिकल से निपटने में मदद करता है।दिल की बीमारियों और ब्लड प्रेशर से बचाएकद्दू में फाइबर, पोटैशियम और विटामिन सी पाया जाता है। शरीर में सोडियम की अधिकता से ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है और हाइपरटेंशन की समस्या हो जाती है। कद्दू में पोटैशियम होता है और पोटैशियमयुक्त आहार के सेवन से शरीर का सोडियम कम हो जाता है। पोटैशियम से दिल की बीमारियों का खतरा भी बहुत हद तक कम हो जाता है। पोटैशियम के सेवन से हड्डियों का घनत्व सही रहता है और ये कमजोर नहीं होती हैं।बालों के लिए भी फायदेमंदअगर बाल बहुत झड़ रहे हैं तो सप्ताह में 2-3 बार कद्दू की सब्जी या रायता खाएं। इससे बालों की ग्रोथ बढ़ेगी और बाल झड़ने की समस्या भी कम हो जाएगी। दरअसल इसमें काफी मात्रा में विटामिन ए होता है, जो सिर की त्वचा को बहुत फायदा पहुंचाता है। इसके अलावा इसमें पोटैशियम भी पाया जाता है, जो नए बालों को उगने में मदद करता है।25 से 30 ग्राम डाइट्री फाइबर रोज खाएंकद्दू का फल डाइट्री फाइबर से भरपूर होता है। स्वस्थ शरीर के लिए आपको लगभग 25 से 30 ग्राम डाइट्री फाइबर रोज खाना चाहिए मगर ज्यादातर लोग 15 ग्राम से ज्यादा डाइट्री फाइबर नहीं लेते हैं। फाइबर के सेवन से खून में शुगर कम घुलती है और पाचन ठीक रहता है। एक कप कच्चे कद्दू में लगभग 7 ग्राम फाइबर होता है और पके हुए एक कप कद्दू में लगभग 3 ग्राम फाइबर होता है इसलिए इसका सेवन स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है।डायबीटीज रोगी जरूर खाएंकद्दू का सेवन डायबीटीज के मरीजों के लिए भी फायदेमंद है। कद्दू के बीज और इसके पल्प में ऐसे गुण पाए गए हैं, जो टिशूज में ग्लूकोज को सोखने में मदद करते हैं, जिससे ब्लड में शुगर लेवल कम होता है। इसके अलावा यह लिवर में ग्लूकोज की मात्रा को नियंत्रित करता है।------------------------फाइबर और विटामिन से भरपूर कद्दू शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है। इससे पाचन भी ठीक रहता है।-डॉ.सरोज पांडेय, आयुर्वेदाचार्य

March 26, 2019 03:00 UTC


पाक समर्थन में नारे लगाने पर घमासान, भाजपा बोली- अकबर लोन को अयोग्य घोषित करें

जागरण न्यूज नेटवर्क, श्रीनगर। अपने बड़बोलेपन और पाकिस्तान प्रेम के कारण अक्सर सुर्खियों में रहने वाले राज्य विधानसभा के पूर्व स्पीकर और बारामुला-कुपवाड़ा लोकसभा सीट पर नेशनल कांफ्रेंस के उम्मीदवार मोहम्मद अकबर लोन के खिलाफ भाजपा ने मोर्चा खोल दिया है।भाजपा ने चुनाव आयोग, राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी और जम्मू-पुंछ व बारामुला सीटों के अधिकारियों को मेल कर पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने पर लोन को चुनाव के लिए अयोग्य करार देने का आग्रह किया। उन्होंने लोन का पाक के समर्थन में नारे लगाने वाला सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो भी साथ भेजा है। इसके साथ भाजपा ने जम्मू के बख्शी नगर थाने में लोन के खिलाफ राष्ट्रद्रोह का मामला दर्ज करवाने के लिए शिकायत भी की है।जम्मू के जानीपुर से भाजपा के कॉरपोरेटर व भाजपा के चुनाव संबंधी मामलों के प्रभारी राजेंद्र शर्मा ने बारामुला सीट से नेकां के उम्मीदवार लोन के खिलाफ एफआरआर दर्ज करने के लिए बख्शीनगर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करवाई। उन्होंने लोन के खिलाफ राष्ट्रदोह का मामला दर्ज करने पर जोर दिया। राजेंद्र ने बताया कि उन्होंने जम्मू के डीसी व चुनाव आयोग से भी शिकायत की है कि लोन का नामांकन रद करने के साथ उन्हें उम्मीदवार बनाने वाली नेकां की मान्यता भी रद्द की जाए।इस बीच, प्रदेश भाजपा ने पार्टी मुख्यालय में लोन के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। पार्टी प्रवक्ता अश्विनी कुमार चरंगू ने जोर दिया कि चुनाव आयोग अपने देश विरोधी बयानबाजी से राज्य का चुनावी माहौल बिगाडऩे की कोशिश कर रहे मोहम्मद अकबर लोन के खिलाफ कार्रवाई करे। उन्होंने कहा कि यह शर्मनाक है कि संविधान की शपथ लेने के साथ विधानसभा का स्पीकर रह चुके अकबर लोन देश विरोधी विचारधारा को बढ़ावा दे रहे हैं।इस बीच, कश्मीर में भाजपा के प्रवक्ता अल्ताफ ठाकुर ने भी राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को पत्र लिखा। उन्होंने पत्र में कहा कि लोन अपने भाषणों के जरिए राष्ट्र का अपमान कर रहे हैं। वह भाषणों में खुलेआम पाकिस्तान ङ्क्षजदाबाद के नारे लगा रहे हैं, जिससे न सिर्फ जम्मू कश्मीर के लोगों की बल्कि पूरे देशवासियों की भावनाएं आहत होती हैं। उन्होंने लिखा कि सोशल मीडिया पर मोहम्मद अकबर लोन द्वारा की जाने वाली पाकिस्तान समर्थक नारेबाजी पर कई वीडियो वायरल हैं। उनका संज्ञान लिया जाना चाहिए।इस बीच, बारामुला-कुपवाड़ा सीट से भाजपा के उम्मीदवार एमएम वार ने बारामुला में जिला चुनाव अधिकारी के कार्यालय में नामांकन पत्र जमा कराने के बाद कहा कि नेकां उम्मीदवार के खिलाफ पुलिस को एफआइआर दर्ज करनी चाहिए।लोन ने कहा था, कोई पाक को गाली देगा तो मैं उसे गोली दूंगा :उत्तरी कश्मीर में गत दिनों अपनी एक चुनावी रैली के दौरान मोहम्मद अकबर लोन ने कहा था कि एलओसी के पार एक मुस्लिम मुल्क है और वह हमेशा खुशहाल रहना चाहिए। हमारी उनसे दोस्ती मजबूत होनी चहिए। अगर कोई पाकिस्तान को गाली देगा तो मैं उसे दस गुणा ज्यादा गालियां दूंगा।पहले भी पैदा कर चुके विवाद :मोहम्मद अकबर लोन ने पिछले साल फरवरी में विधानसभा में भाजपा विधायकों द्वारा पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए जाने पर एतराज जताते हुए पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे भी लगाए थे। दिसंबर 2017 में लोन ने भाजपा और पीडीपी के नेताओं पर एकसाथ बैठकर बीफ खाने का आरोप लगाकर भी एक बड़ा विवाद पैदा किया था।उमर बोले, मेरा ब्लड प्रेशर बढ़ा देते हैं यहनेशनल कांफ्रेंस के उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने पार्टी उम्मीदवार मोहम्मद अकबर लोन द्वारा लगाए गए पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे का उल्लेख किए बिना सोमवार को कुंजर (टंगमर्ग) में कहा कि अकबर लोन एक ईमानदार और दिल का सादा इंसान है... वह वही कहता है जो उसके दिल में हो.... वह लड़ाकू नहीं है, शरारती नहीं है। उत्तरी कश्मीर में मुझे सिर्फ एक ही उम्मीदवार नजर आता है, लेकिन वह कई बार मेरा ब्लड प्रेशर बढ़ा देता है। वह उम्मीदवार कोई और नहीं, अकबर लोन ही है। उमर ने लोगों से कहा कि वह उसी उम्मीदवार को वोट दें, जो संसद में जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे की हिफाजत के लिए लड़े, जो आप लोगों के हक और पहचान के लिए लड़े।लोन बोले-एक बार नहीं, दस बार पाक जिंदाबाद का नारा लगाऊंगा :बारामुला सीट से चुनाव लड़ रहे मोहम्मद अकबर लोन ने कहा कि मैं एक बार नहीं दस बार पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाऊंगा। अगर भाजपा और आरएसएस में हिम्मत है तो मेरे खिलाफ एफआइआर दर्ज कराकर दिखाए। टंगमर्ग में एक चुनावी रैली के बाद बातचीत में उन्होंने कहा कि मैं किसी की धमकी से नहीं डरता। मैंने कोई गलत बात नहीं की है। मैं किसी एफआइआर से नहीं डरता। हमारे लिए धारा 370, धारा 35ए और रियासत की विशिष्ट राजनीतिक पहचान ही सबसे अहम है। सांसद बनने के बाद मैं संसद में धारा 370, 35ए की हिफाजत के लिए लडूंगा, कश्मीरी क्या चाहत हैं, यह संसद में गूंजेगा। नेशनल कांफ्रेंस कश्मीर मसले का समाधान चाहती है और हम इसके हल के लिए हर संभव प्रयास करेंगे।Posted By: Preeti jha

March 26, 2019 02:53 UTC


भाजपा ने जारी की स्टार प्रचारकों की सूची, आडवाणी और जोशी का नाम गायब

राज्य ब्यूरो, लखनऊ। लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा ने 40 स्टार प्रचारकों के नाम तय कर दिए हैं। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व दिनेश शर्मा समेत 40 नाम शामिल है परंतु संस्थापक सदस्य लाल कृष्ण आडवाणी, पूर्व केंद्रीय मंत्री मुरली मनोहर जोशी, मेनका गांधी और वरुण गांधी जैसे नाम न होना चर्चा में बना है।भाजपा ने सोमवार को चुनाव आयोग को पहले और दूसरे चरण में अपने स्टार प्रचारकों की सूची सौंप दी। लोकसभा चुनाव प्रभारी जेपी नड्डा, राष्ट्रीय महामंत्री संगठन रामलाल और प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष कलराज मिश्र और डॉ. लक्ष्मीकांत बाजपेयी, नितिन गडकरी, अरुण जेटली, सुषमा स्वराज, थावर चंद्र गहलौत के नाम भी प्रचारकों की सूची में शामिल किए गए हैं।मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान, निर्मला सीता रमण, पीयूष गोयल, स्मृति ईरानी, उमा भारती, मुख्तार अब्बास नकवी, हेमा मालिनी, सतपाल महराज, सह महामंत्री संगठन शिवप्रकाश, त्रिवेंद्र सिंह रावत, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दुष्यंत गौतम और दिल्ली भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को भी स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल किया है। इनके साथ ही संजीव बालियान, श्रीकांत शर्मा, स्वामी प्रसाद मौर्य, चेतन चौहान, धर्म सिंह सैनी, भूपेंद्र सिंह चौधरी, सुरेश राणा, अश्विनी त्यागी, रजनीकांत माहेश्वरी, अजय कुमार और भवानी सिंह के नाम भी स्टार प्रचारकों की सूची में दिए गये हैं।Posted By: Vikas Jangra

March 26, 2019 02:47 UTC


Amethi Lok Sabha Seat: लोकसभा चुनाव 2019: अमेठी में कांग्रेस को बड़ा झटका, राहुल गांधी के खिलाफ लड़ेंगे सोनिया के करीबी

लोकसभा चुनाव के लिए सीटों पर उम्मीदवारों का ऐलान जारी है। इस बार उत्तर प्रदेश, बिहार और उत्तराखंड की ऐसी कई सीटें हैं जहां मुकाबला दिलचस्प होने वाला है। इन तीनों ही राज्यों में 2014 चुनाव में बीजेपी ने विपक्ष का सूपड़ा साफ कर दिया था लेकिन इस बार बिहार में महागठबंधन और यूपी में एसपी-बीएसपी-आरएलडी के गठबंधन की बदौलत इन सीटों पर बीजेपी के उम्मीदवार को कड़ी टक्कर मिलने वाली है। एक नजर इन सीटों पर-सीट-अमेठी, चुनाव- 6 मई यूं तो अमेठी कांग्रेस का गढ़ है और गठबंधन भी यहां से अपना उम्मीदवार नहीं उतार रहा है, फिर भी अमेठी में इस बार मुकाबला कांटे का होगा। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ बीजेपी ने स्मृति इरानी को यहां से टिकट दिया है। स्मृति ने 2014 में भी इसी सीट से राहुल के खिलाफ चुनाव लड़ा था और उन्हें मात भी मिली थी लेकिन उसके बाद से वह अमेठी में काफी सक्रिय रही हैं। दूसरी ओर राहुल यहां से 3 बार सांसद रह चुके हैं।सीट- मुजफ्फरनगर, चुनाव-11 अप्रैलराष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) नेता अजित सिंह पहली बार मुजफ्फरनगर से चुनाव लड़ने जा रहे हैं। यह सीट जाट बाहुल्य सीट है जो कि आरएलडी का वोटबैंक भी है। वहीं बीजेपी ने यहां से मौजूदा सांसद संजीव बालियान को टिकट दिया है। मुजफ्फरनगर दंगों के बाद 2014 में हुए चुनाव में ध्रुवीकरण और मोदी लहर में यहां से संजीव बालियान जीत गए थे लेकिन इस बार उनके सामने अजित सिंह के रूप में कड़ी चुनौती होगी। एसपी-बीएसपी गठबंधन के साथ अजित सिंह यहां से जाट, मुस्लिम और दलितों के समीकरण को लेकर अपनी जीत का ताना-बाना बुन रहे हैं।सीट- बागपत, चुनाव-11 अप्रैल आरएलडी का गढ़ माने जाने वाली पश्चिमी यूपी की बागपत सीट से पहली बार जयंत चौधरी चुनाव लड़ रहे हैं। इस सीट से उनके पिता अजित सिंह को बीजेपी के सत्यपाल सिंह से 2014 में मात मिली थी। ऐसे में जयंत के सामने इस सीट पर अपने परिवार का खोया हुआ विश्वास लौटाने की चुनौती होगी। बीजेपी ने इस बार भी मौजूदा सांसद सत्यपाल सिंह को ही टिकट दिया है।सीट- अमरोहा, चुनाव-18 अप्रैलयूपी की अमरोहा सीट पर इस बार त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिलेगा। यहां से मौजूदा बीजेपी सांसद कंवरसिंह तंवर को इस बार इस सीट दानिश अली से कड़ी चुनौती मिल सकती है। दानिश हाल ही में बीएसपी में शामिल हुए हैं। इसके अलावा कांग्रेस ने यहां से राशिद अल्वी को टिकट दिया है। अमरोहा में 20 फीसदी से ज्यादा मुस्लिम आबादी है। इसके अलावा यहां दलित, सैनी और जाट समुदाय के लोग भी हैं।सीट-फिरोजाबाद, चुनाव- 23 अप्रैल उत्तर प्रदेश के यादव परिवार का झगड़ा इस बार लोकसभा चुनाव में फिरोजाबाद सीट पर और ज्यादा साफ नजर आएगा। फिरोजाबाद से इस बार एसपी संरक्षक मुलायम सिंह यादव के भाई शिवपाल यादव अपनी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं। उनके खिलाफ एसपी ने राम गोपाल यादव के बेटे अक्षय यादव को मैदान में उतारा है। पुराने वोटरों और जमीनी कार्यकर्ताओं के बीच पैठ रखने वाले शिवपाल अपने भतीजे को कड़ी टक्कर देते नजर आएंगे।सीट- बदायूं, चुनाव-23 अप्रैल बदाऊं सीट समाजवादी पार्टी का गढ़ मानी जाती है और यहां से पिछले 6 चुनाव में पार्टी का सांसद चुना गया है। हालांकि इस बार मुलायम सिंह यादव के भतीजे और मौजूदा सांसद धर्मेंद्र यादव के लिए यहां से जीतना इतना आसान नहीं होगा। उनके खिलाफ बीजेपी ने सवर्णों और गैर-यादव वोटरों को लुभाने के लिए यूपी के मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी संघमित्रा को टिकट दिया है। वहीं कांग्रेस ने पूर्व एसपी नेता और इस सीट से चार बार सांसद रह चुके सलीम शेरवानी को टिकट दिया है।सीट- बेगूसराय, चुनाव- 29 अप्रैलइस बार लोकसभा चुनाव में बिहार की बेगूसराय सीट पर दिलचस्प मुकाबला होने वाला है। यहां केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के खिलाफ सीपीआई ने जेएनयू के छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार को टिकट दिया है। यह सीट सीपीआई का मजबूत गढ़ मानी जाती है और कन्हैया को महागठबंधन का समर्थन भी मिल सकता है।सीट- जमुई, चुनाव- 11 अप्रैल जमुई सीट से मौजूदा सांसद चिराग पासवान को इस बार आरएलएसपी के प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी से इस सीट से कड़ी टक्कर मिलेगी। भूदेव इस सीट से 2009 में जेडी (यू) के टिकट से जीत चुके हैं। इस बार वह यहां से दलितों और ओबीसी वोट बैंक के समीकरण को मजबूत करने के प्रयास में हैं तो वहीं पासवान दलितों और सवर्ण दोनों वोटरों पर नजर बनाए हुए हैं।सीट- गया, चुनाव -11 अप्रैलबीजेपी ने एनडीए गठबंधन के तहत अपनी इस सीट को जेडी (यू) के खाते में दिया है और इस वजह से यहां से मौजूदा सांसद हरि मांझी चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। इस सीट से महागठबंधन के प्रत्याशी और पूर्व सीएम जीतनराम मांझी के सामने जेडी (यू) से विजय मांझी होंगे। पिछले चुनाव में इस सीट पर जेडी (यू) के टिकट से चुनाव लड़ने के बाद जीतनराम तीसरे नंबर पर आए थे। इस बार मांझी अपनी पार्टी (HAM) से चुनाव लड़ रहे हैं और मजबूत दावेदार हैं।सीट- पूर्णिया, चुनाव- 18 अप्रैल पूर्णिया उन दो सीटों में से एक है जहां से 2014 में जेडी (यू) ने मोदी लहर के बावजूद जीत दर्ज की थी। हालांकि इस बार समीकरण बदले हुए हैं। 2014 में इस सीट से बीएसपी के टिकट से लड़ने वाले उदय सिंह इस बार कांग्रेस के उम्मीदवार हैं। उदय इस सीट से बीजेपी के प्रत्याशी संतोष कुशवाहा को कड़ी टक्कर दे सकते हैं।सीट- गढ़वाल, चुनाव- 11 अप्रैलउत्तराखंड की गढ़वाल सीट में इस बार मुकाबला दिलचस्प होने वाला है। हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुए बीजेपी सांसद और पूर्व सीएम बीसी खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी को पार्टी ने यहां से उम्मीदवार बनाया है। उनके सामने बीजेपी ने खंडूरी के शिष्य माने जाने वाले तीरथ सिंह रावत को उतारा है। बीसी खंडूरी इस सीट से 5 बार सांसद रह चुके हैं और इस बार उनके बेटे इस सीट से लड़ाई को नया आयाम दे रहे हैं। दोनों ही उम्मीदवारों का दावा है कि उन्हें बीसी खंडूरी का आशीर्वाद मिला हुआ है।सीट-नैनीताल, चुनाव- 11 अप्रैलबीजेपी ने

March 26, 2019 02:46 UTC


Tags
Cryptocurrency      African Press Release      Lifestyle       Hiring       Health-care       VMware

Loading...