Arunachal Pradesh Vidhan Saba Chunav 2019: अरुणाचल प्रदेश चुनाव: यहां चुनाव से पहले ही बीजेपी उम्मीदवार की जीत, निर्विरोध निर्वाचित

BJP scored first victory! BJP MLA candidate Shri Kento Jini from 31-Aalo East Constituency in Arunachal Pradesh is… https://t.co/HfW0teBlD9 — Chowkidar Kiren Rijiju (@KirenRijiju) 1553588025000पूर्वोत्तर राज्य अरुणाचल प्रदेश में इस बार लोकसभा चुनाव के साथ ही विधानसभा चुनाव भी होने हैं। चुनाव की तारीख यूं तो 11 अप्रैल है, मगर बीजेपी को अभी से ही एक सीट पर जीत मिल गई है। अरुणाचल की आलो ईस्ट विधानसभा सीट पर बीजेपी के उम्मीदवार केंटो जिनी निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं।दरअसल अरुणाचल प्रदेश में 11 अप्रैल को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन की अंतिम तिथि 25 मार्च थी। सोमवार को नामांकन के आखिरी दिन तक केंटो के सामने कोई वैध उम्मीदवार ना होने पर उन्हें विजयी घोषित कर दिया गया।अरुणाचल वेस्ट से सांसद और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरन रिजिजू ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी और केंटो को बधाई दी। रिजिजू ने ट्वीट किया, 'हमने पहला गोल कर दिया है। अरुणाचल प्रदेश की आलो ईस्ट विधानसभा से बीजेपी उम्मीदवार केंटो जिनी निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। अरुणाचल प्रदेश और आलो ईस्ट के सभी बीजेपी कार्यकर्ताओं को पहली जीत के लिए बधाई।'बता दें कि अरुणाचल प्रदेश की 60 विधानसभा सीटों पर लोकसभा चुनाव के साथ ही 11 अप्रैल को मतदान होगा। प्रदेश की 2 लोकसभा सीटों और 60 विधानसभा सीटों पर पहले चरण में 11 अप्रैल को मतदान होना है। 23 मई को चुनाव परिणाम आएंगे।

March 26, 2019 07:18 UTC


NDTV से बोले रघुराम राजन: भारत में नौकरियों की भारी किल्लत, बेरोजगारी पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया जा रहा

खास बातें रघुराम राजन ने कहा कि देश में नौकरियों की भारी किल्लत है. उन्होंने कहा कि देश में नौकरियों की भारी किल्लत है और सरकार इस पर सही से ध्यान नहीं दे रही है. कर्ज माफी का फायदा गरीबों को नहीं मिलता, देश के राजस्व में आता है संकट : रघुराम राजनलीक हुई NSSO की जॉब्स रिपोर्ट पर रघुराम राजन ने कहा कि युवाओं को नौकरियों की तलाश है. कुछ आंदोलन इस तथ्य के रिफ्लेक्शन हैं कि युवा नौकरियों की तलाश में हैं, खासकर सरकारी नौकरियां क्योंकि सरकारी नौकरियों में सुरक्षा का भरोसा होता है. हमने समय के साथ देखा है कि लोगों को सीधे पैसा देना अक्सर उन्हें सशक्त बनाने का एक तरीका है.

Source:NDTV

March 26, 2019 07:17 UTC


The Tashkent Files Trailer: लाल बहादुर शास्त्री की मौत या हत्या? गंभीर सवाल उठाती है फिल्म... देखें दमदार ट्रेलर

खास बातें 'द ताशकंद फाइल्स' का ट्रेलर रिलीज लाल बहादूर शास्त्री की मौत पर सवाल उठाती है फिल्म मिथुन चक्रवर्ती और नसीरुद्दीन शाह की दमदार एक्टिंगभारत के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री (Lal Bahadur Shastri) की रहस्यमयी मौत पर बनी फिल्म 'द ताशकंद फाइल्स' (The Tashkent Files) की ट्रेलर रिलीज हो चुका है. इस फिल्म के ट्रेलर ने रिलीज होते ही यूट्यूब पर तहलका मचा दिया है. इस फिल्म के ट्रेलर की शुरुआत में देखा जा सकता है कि लाल बहादुर शास्त्री (Lal Bahadur Shastri) की मौत की जांच में इंक्वायरी कमेटी जुटी रहती है. कपिल शर्मा और बच्चा यादव की जुगलबंदी ने मचाया धमाल, खूब हंसे विद्युत जामवाल...देखें Videoदेखें वीडियो:'द ताशकंद फाइल्स' (The Tashkent Files) का ट्रेलर 2 मिनट 44 सेकेंड का है. यूट्यूब पर इस फिल्म के ट्रेलर को अभी तक 19 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका है और इसे देखने का सिलसिला जारी है.

Source:NDTV

March 26, 2019 06:56 UTC


BJP ने काटा मुरली मनोहर जोशी का टिकट, केजरीवाल बोले- जिन्होंने घर बनाया उन्हीं बुजर्गों को निकाल दिया

BJP ने काटा मुरली मनोहर जोशी का टिकट, केजरीवाल बोले- जिन्होंने घर बनाया उन्हीं बुजर्गों को निकाल दियानई दिल्ली, एजेंसी। बीजेपी 2019 में एक बार फिर सत्ता में वापसी करने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है। इसीलिए भाजपा ने अपने किए वरिष्ठ नेताओं का पत्ता साफ कर दिया है। भाजपा के दिग्गज नेता पार्टी से खफा है। दरअसल भाजपा पार्टी के वरिष्ठ मुरली मनोहर जोशी टिकट नहीं दे रही है।जोशी ने कानपुर के लोगों को पत्र लिख इस बात की जानकारी दी। उन्होंनें लिखा की प्रिय कानपुर के लोगों, बीजेपी के महासचिव रामलाल ने आज मुझे सूचना दी कि मैं इसबार ना तो कानपुर और ना ही किसी अन्य क्षेत्र से चुनाव लडूंगा। पार्टी ने मुझे टिकट ही नहीं दिया है।बता दें कि जोशी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और एल.के. आडवाणी की ही तरह भाजपा के संस्थापक सदस्यों में से एक हैं। गौरतलब है कि भाजपा ने अडवाणी को भी टिकट नहीं दिया है, उनकी जगह इस बार गांधीनगर लोकसभा सीट से पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को टिकट दिया गया है। सन् 1991 स लगातार आडवाणी गांधीनगर सीट से चुनाव लड़ते आए है। मुरली मनोहर जोशी ने भी 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए अपनी वाराणसी सीट को छोड़ दिया था।दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विट के जरिए भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि जिन्होंने घर बनाया था उन्हीं बुजुर्गों को घर से निकाल दिया। जो अपने बुजुर्गो का नहीं हो सका वो किसका होगा। क्या यही भारतीय सभ्यता है? हिन्दू संस्क्रति तो ये नही कहती कि बुजर्गों को बेज्जत करो।Posted By: Atyagi.jimmc

March 26, 2019 06:56 UTC


बसपा नेता पर बदमाशों ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, सीसीटीवी में कैद हुई पूरी वारदात

खास बातें गाजियाबाद में बीएसपी नेता पर हमला बदमाश ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां साथ में रिटायर्ड पुलिस अधिकारी की भी हत्याएनसीआर के गाजियाबाद में सोमवार की सुबह बदमाशों द्वारा बसपा नेता और रिटायर्ड पुलिस ऑफिसर की दिन दहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई. हमला करते वक्त बसपा नेता शब्बार जैदी बदमाशों से भीड़ जाते हैं, लेकिन उनकी संख्या ज्यादा होने की वजह से असहाय हो जाते है. जिसे पुलिस ने पूरा फुटेज निकाल लिया है और सीसीटीवी के आधार पर जल्द ही आपरोपियों को पकड़ने की बात कह रही है. सीसीटीवी में साफ देखा जा सकता है कि किस तरह से एसआई और बसपा नेता शब्बार जैदी बदमाशों से भीड़ भी जाते है. गाजियाबाद में जिस इलाके में यह वारदात हुई है, वहां के आसपास के इलाके में खौफ का माहौल है.

Source:NDTV

March 26, 2019 06:56 UTC


सुषमा की दो टूक, नाबालिग हिंदू बहनों को उनके परिजनों को सौंपे पाक, हाईकोर्ट ने सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा

सुषमा की दो टूक, नाबालिग हिंदू बहनों को उनके परिजनों को सौंपे पाक, हाईकोर्ट ने सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहानई दिल्ली (एजेंसी)। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मंगलवार को ट्वीट करके पाकिस्तान में जबरन धर्मांतरण और निकाह का शिकार हुई दोनों नाबालिग हिंदू बहनों को इंसाफ देने की मांग की। सुषमा ने पाकिस्तानी प्रशासन से इन लड़कियों को उनके परिजनों से मिलाने के लिए भी कहा।भारतीय विदेश मंत्री ने कहा है कि ऐसे धर्मपरिवर्तनों को कतई स्वीकार नहीं किया जा सकता है। ऐसी जबर्दस्ती तो 'नए पाकिस्तान' के प्रधानमंत्री के लिए भी अस्वीकार्य है। इधर, इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने राज्य प्रशासन से कहा है कि वह इन हिंदू पीडि़ताओं को हिरासत में लेकर इनकी सुरक्षा सुनिश्चित करे। बता दें कि होली के दिन दोनों बहनों का अपहरण करने के बाद जबरन धर्मातरण कराकर निकाह कराया गया था। पुलिस ने निकाह कराने में मददगार एक आदमी को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं अन्य सात लोग हिरासत में भी लिए जा चुके हैं। इस मामले में सोमवार पीड़ित लड़कियों के पिता ने आत्मदाह करने की कोशिश की थी। हालांकि, वहां मौजूद स्थानीय लोगों ने उन्हें ऐसा करने से रोक दिया था।उल्लेखनीय है कि सिंध प्रांत के घोटकी जिले से 13 वर्षीया रवीना और 15 वर्षीया रीना का रसूखदार लोगों के गिरोह ने अपहरण कर लिया था। सोशल मीडिया पर घटना का वीडियो वायरल होने के बाद भारतीय विदेश मंत्रालय ने भी घटना का संज्ञान लेते हुए पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायोग से रिपोर्ट तलब की थी। यहां तक कि पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी घटना की त्वरित जांच के निर्देश दिए थे।Posted By: Krishna Bihari Singh

March 26, 2019 06:50 UTC


मोदी सरकार पर बड़ा आरोप लगा बैंकों से बोला विजय माल्या, 'मेरे पैसे ले लो और जेट एयरवेज को बचा लो'

भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या ने जेट एयरवेज के राहत पैकेज को लेकर मंगलवार को सरकारी बैंकों पर "दोहरा मापदंड" अपनाने का आरोप लगाया. विजय माल्या ने कई ट्वीट कर कहा है कि मैंने बैंकों का बकाया चुकाने के लिए हाईकोर्ट के सामने अपनी चल संपत्ति रखी है फिर बैंक पैसा क्यों नहीं ले रहे हैं. उन्होंने कहा , "यह देखकर खुशी हुई कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने नौकरी, संपर्क सुविधा (कनेक्टिविटी) और कंपनी को बचाने के लिए जेट एयरवेज को मदद मुहैया की. " शराब कारोबारी ने कहा , " भाजपा के प्रवक्ता ने तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को भेजे मेरे पत्रों को जोर-शोर से उठाया और आरोप लगाया कि संप्रग सरकार में सरकारी बैंकों ने किंगफिशर एयरलाइंस की गलत तरीके से मदद की. " — Vijay Mallya (@TheVijayMallya) March 26, 2019ब्रिटेन के गृह मंत्री ने भगोड़े कारोबारी विजय माल्या को भारत प्रत्यर्पित करने का आदेश दियाभगोड़े कारोबारी माल्या ने अपनी संपत्तियों के जरिए बैंकों के बकाये का भुगतान करने की एक बार फिर पेशकश की.

Source:NDTV

March 26, 2019 06:45 UTC


Jio GigaFiber का ट्रिपल प्ले प्लान किया गया स्पॉट, जानें मिलने वाले बेनिफिट्स

नई दिल्ली (टेक डेस्क)। पिछले साल अगस्त में Jio GigaFiber की घोषणा के बाद से ही इस FTTH ब्रॉडबैंड सर्विस के व्यावसायिक लॉन्च से लेकर प्लान्स के बारे में कई तरह की लीक्स और रिपोर्ट्स आ चुकी हैं। Reliance Jio के ब्रॉडबैंड सेवा को चुनौती देने के लिए Airtel V-Fiber, BSNL, Excitel, ACT Fibernet ने भी अपने प्लान्स में बदलाव किए हैं। Jio GigaFiber की ट्रायल देश के चुनिंदा शहरो में की जा रही है, इसके व्यावसायिक तौर पर भी जल्द चालू किया जा सकता है। Reliance Jio ने हाल ही में Hathway और DEN नेटवर्क में भी इंवेस्ट किया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक Jio GigaFiber के लिए कंपनी ट्रिपल प्ले प्लान की टेस्टिंग कर रही है। आइए, जानते हैं इसके बारे मेंJio GigaFiber ट्रिपल प्ले प्लानJio GigaFiber की सेवा को फिलहाल कंपनी के कर्मचारी के साथ ही चुनिंदा ग्राहकों को ट्रायल के तौर पर दिया जा रहा है। टेलिकॉम टॉक की रिपोर्ट के मुताबिक, Jio GigaFiber के इस ट्रिपल प्ले प्लान को फिलहाल कर्मचारियों के साथ टेस्ट किया जा रहा है। इस प्लान को कंपनी के एक कर्मचारी के Jio GigaFiber अकाउंट में स्पॉट किया गया है। हालांकि, इस प्लान के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं मिली है।टेक के नए वीडियोज देखने के लिए Jagran HiTech चैनल को सब्सक्राइब करें।स्पॉट किए गए ट्रिपल प्ले प्लान में यूजर्स को 28 दिनों की वैलिडिटी का लाभ मिलता है। इसमें यूजर्स को 100GB हाई स्पीड डाटा का लाभ दा जाता है। जिसमें यूजर्स को 100Mbps की स्पीड से डाटा का लाभ मिलता है। इसके अलावा अनलिमिटेड वॉयस कॉलिंग, Jio Home TV सब्सक्रिप्शन और ऐप्स का एक्सेस मिलता है। यह भी रिपोर्ट मिल रही है कि Jio Home TV को Jio IPTV के नाम से भी लॉन्च किया जा सकता है।Jio GigaFiber के ट्रायल में आम यूजर्स को 100 GB डाटा वाला प्लान 30 दिनों की वैलिडिटी के साथ दिया जा रहा है। इसके अलावा 1000 GB का बोनस डाटा भी दिया रहा है। इसमें यूजर्स को 100Mbp की स्पीड से डाटा का लाभ दिया जा रहा है। Jio GigaFiber के ट्रिपल प्ले प्लान को आने वाले सप्ताह में आम यूजर्स के लिए भी लॉन्च किया जा सकता है।यह भी पढ़ें:WhatsApp का नया फीचर बताएगा, कितने बार मैसेज हुआ है ForwardRealme Mobile Bonanza Sale: Realme 3 से लेकर Realme U1 तक मिल रहा है डिस्काउंटFlipkart Mobile Bonanza Sale: Xiaomi, Samsung, Asus के लेटेस्ट स्मार्टफोन्स पर मिल रहा है ऑफरPosted By: Harshit Harsh

March 26, 2019 06:42 UTC


तेजस्वी का तंज: पाकिस्तान का वीजा देने वाले मंत्री को BJP ने नहीं दिया नवादा का वीजा

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) को बिहार के नवादा से टिकट न मिलने के बाद राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने उन पर तंज कसा है. उन्होंने लिखा है, 'तो भाजपा (BJP) के उच्च नेतृत्व ने बिहार (Bihar) के नवादा में वीजा मंत्री को वीजा देने से मना कर दिया. उन्होंने यह ट्वीट न्यूज एजेंसी एएनआई के उस ट्वीट के साथ किया है, जिसमें गिरिराज सिंह की नाराजगी वाली बात कही गई है. बिहार में राजग द्वारा रविवार को सीटों के बंटवारे की घोषणा के अनुसार नवादा लोकसभा सीट अब लोजपा के खाते में चली गयी है. लोकसभा चुनाव 2019 : गिरिराज सिंह की नाराजगी दूर करने की कोशिश करेंगे चिराग पासवानVIDEO- बीजेपी सांसद गिरिराज सिंह के बगावती तेवर

Source:NDTV

March 26, 2019 06:37 UTC


kesari box office collection Day 5 as this akshay kumar and parineeti chopra film definitely reach 100 crore this week

मुंबई। अक्षय कुमार (Akshay Kumar) की फिल्म केसरी (Kesari) ने बॉक्स ऑफ़िस पर अपने पहले सोमवार को भी कमाई का रूतबा दिखाया और कमाई 85 करोड़ रूपये के पार हो गई है lबॉक्स ऑफ़िस पर बैटल ऑफ सारागढ़ी की कहानी को लेकर बनी इस फिल्म ने घरेलू बॉक्स ऑफिस पर अपनी रिलीज़ के 5 वें दिन यानि पहले सोमवार को 8 करोड़ 25 लाख रूपये का कलेक्शन किया है। केसरी ने 21 करोड़ 6 लाख रूपये से ओपनिंग ली थी और अब फिल्म की कुल कमाई 86 करोड़ 32 लाख रूपये हो गई है l केसरी का ट्रेंड यदि वर्किंग डेज़ में यही बनता है तो इस हफ़्ते 100 करोड़ आसानी से हो जाएंगे lआमतौर पर इस बात को लेकर अक्सर लोग बातें करते रहे हैं कि इंडियन प्रीमियर लीग ( आई पी एल) शुरू होने के बाद उस दौरान की फिल्मों का हाल बुरा होता है l लेकिन केसरी ने इसको गलत साबित किया है और ऐसा पहले भी हो चुका है l केसरी को हॉलीडे वीकेंड मिला यानि होली की छुट्टी के साथ चार दिनों की कमाई का अवसर जिस पर वो खरी उतरी है lकेसरी इस साल की सबसे बड़ी ओपनर बनी और साथ ही अक्षय कुमार के फ़िल्मी करियर में पहले दिन सबसे अधिक कमाई करने वाली फिल्मों में गोल्ड के बाद दूसरे स्थान पर आ गई है l केसरी को भारत में 3600 और ओवरसीज में 600 स्क्रीन पर रिलीज़ किया गया है l ये फिल्म भारतीय जांबाजों के वीरता और साहस की कहानी है। फिल्म में अक्षय कुमार के साथ परिणीति चोपड़ा हैं। इस फिल्म को पहले करण जौहर के साथ सलमान खान भी प्रोड्यूस करने वाले थे लेकिन बाद में वो हट गए।केसरी, बैटल ऑफ़ सारागढ़ी की कहानी हैl 12 सितम्बर 1897 को अंग्रेजों और अफ़्ग़ान ओराक्ज़ई जनजातियों के बीच लड़ा गया था। यह युद्ध अब के पाकिस्तान में स्थित उत्तर-पश्चिम फ्रण्टियर प्रान्त (खैबर-पखतुन्खवा) में हुआ। तब सिख ब्रिटिश फ़ौज में सिख रेजिमेंट की चौथी बटालियन थी, जिसमें 21 सिख थे, जिन पर 10000 अफ़्ग़ानों ने हमला किया था । सिखों का नेतृत्व कर रहे हवलदार ईशर सिंह ने मरते दम तक लड़ने का फैसला किया । इसे सैन्य इतिहास में इतिहास के सबसे महान एंड बैटल यानि अन्त वाले युद्धों में से एक माना जाता है। जंग के दो दिन बाद दूसरी ब्रिटिश भारतीय सेना द्वारा ने उस जगह पर फिर कब्ज़ा कर लिया था।सिख सैनिक इस युद्ध की याद में 12 सितम्बर को सारगढ़ी दिवस मनाते हैं l फिल्म में अक्षय कुमार हवलदार ईशर सिंह का किरदार निभाया है।यह भी पढ़ें: बेटी श्वेता बच्चन के लिए "पा" Amitabh Bachchan ने किया वो काम, जो आपके पापा भी करते हैंPosted By: Manoj Khadilkar

March 26, 2019 06:30 UTC


Tags
Cryptocurrency      African Press Release      Lifestyle       Hiring       Health-care       VMware

Loading...