कभी वेस्‍टइंडीज के इस बॉलर से खौफ खाते थे विराट कोहली, लग रहा था टेस्‍ट करियर खत्‍म हो जाएगा..

यही नहीं उन्हें यहां तक लगने लगा था कि उनका टेस्ट करियर जल्‍दी ही खत्म हो जाएगा. विराट कोहली ने अपने टेस्ट करियर की शुरुआत वेस्टइंडीज में की थी और तीन टेस्ट मैचों में वह केवल 76 रन बना पाये थे. विराट कोहली ने क़रीबी लोगों के सामने माना था कि उन्हें एडवर्ड्स की गेंद को ‘पिक’ करने में दिक्क़त हो रही है. अगर मैदान के बाहर के किस्से हैं तो वो भी खिलाड़ियों की पसंद-नापसंद के होते हैं. उन्होंने लिखा है, ‘इस किताब के किस्से आपको हंसाते है, गुदगुदाते है और कई बार थोड़ा उदास भी करते है.’इस किताब की कीमत 199 रुपये है.

Source:NDTV

October 15, 2018 14:03 UTC


पाकिस्तान उपचुनाव : PM इमरान खान की पार्टी को बड़ा झटका, नवाज शरीफ की पार्टी की संख्या में सुधार

खास बातें PM इमरान खान की पार्टी को बड़ा झटका नवाज शरीफ की पार्टी की संख्या में सुधार दोनों पार्टियों ने 4-4 सीटें जीती हैंपाकिस्तान में हुए उपचुनावों में प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी ‘तहरीक ए इन्साफ’ को झटका लगा है, वहीं नेशनल असेंबली में अपनी सदस्य संख्या बढ़ाते हुए, अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पीएमएल-एन की अगुवाई वाले विपक्षी गठबंधन ने पांच और संसदीय सीटें अपने कब्जे में कर ली हैं. पाकिस्तान में रविवार को पंजाब में नेशनल असेंबली की नौ सीटों, सिंध में एक सीट, खैबर पख्तूनख्वा की एक सीट के लिए तथा 24 प्रांतीय असेंबली सीटों के लिए उप चुनाव हुए. इन 24 प्रांतीय असेंबली सीटों में से 11 सीटें पंजाब प्रांत में, नौ खैबर पख्तूनख्वा में, दो सिंध में और दो बलूचिस्तान में हैं. इस्तीफा देने वालों में प्रधानमंत्री इमरान खान शामिल हैं, जिन्होंने नेशनल असेंबली की पांच सीटों से चुनाव लड़ा और पांचों सीटों पर जीते थे. पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने बताया कि पीएमएल-एन और पीटीआई ने नेशनल असेंबली में चार चार सीटें जीती हैं जबकि पाकिस्तान मुस्लिम लीग-कायद ने दो सीटों और एमएमए ने एक सीट जीती है.

Source:NDTV

October 15, 2018 13:52 UTC


इलाहाबाद का नाम बदलने की तैयारियों के बीच अखिलेश बोले- आस्था और परंपरा के साथ खिलवाड़ कर रही योगी सरकार

— Akhilesh Yadav (@yadavakhilesh) October 15, 2018संगम नगरी इलाहाबाद का नाम बदलकर 'प्रयागराज' किए जाने की तैयारियों के बीच समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इसे परंपरा और आस्था के साथ खिलवाड़ करार दिया. यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट कर कहा कि प्रयाग कुंभ का नाम केवल प्रयागराज किया जाना और अर्द्धकुंभ का नाम बदलकर 'कुंभ' किया जाना परंपरा और आस्था के साथ खिलवाड़ है. श्रीकांत शर्मा ने कहा कि इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किए जाने पर कुछ लोग जो आपत्ति जता रहे हैं, वह निराधार हं. जहां तक आस्था की बात है तो आस्था से तब खिलवाड़ हुआ था, जब प्रयागराज का नाम बदलकर इलाहाबाद रखा गया था. मालूम हो कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीते शनिवार को इलाहाबाद में कहा था कि कुंभ मेले से पहले संगम नगरी का नाम बदलकर प्रयागराज करने का प्रस्ताव है.

Source:NDTV

October 15, 2018 13:52 UTC


विश्व कप को लेकर भारतीय बल्लेबाज युवराज सिंह ने कही ये बड़ी बात

नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार बल्लेबाज युवराज सिंह टीम में वापसी के लिए काफी मेहनत कर रहे हैं। उन्होंने साफ कर दिया है कि वो 2019 के बाद ही क्रिकेट से रिटायरमेंट के बारे में सोचेंगे। टीम इंडिया में वापसी को लेकर उनका कहना है कि ये टीम के कोच और कप्तान पर निर्भर करता है। युवी ने विजय हजारे टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करते हुए 7 मैचों में 264 रन बनाए थे। उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 96 रन रहा साथ ही उन्होंने गेंदबाजी भी की।टीम इंडिया में वापसी पर युवी का कहना है कि मैं 2019 तक क्रिकेट खेलूंगा और दौरान मुझे जो भी मौका मिलेगा में उन मैचों में खेलूंगा। टीम में चयन मेरे हाथ में नहीं है, इसके लिए मैं सिर्फ मेहनत कर सकता हूं और अपने खेल को और सुधार सकता हूं। पिछले वर्ष टीम से ड्रॉप होने के बाद मैंने काफी मेहनत की है। विश्व कप के लिए हर कोई टीम में युवा खिलाड़ियों को मौका देने की बात कर रहा है लेकिन ये सिर्फ चयनकर्ता, कोच और कप्तान का फैसला है।पिछले वर्ष युवी यो-यो टेस्ट में फेल हो गए थे और टीम में जगह नहीं बना पाए। इसके बाद उन्होंने ये टेस्ट तो पास कर लिया लेकिन आइपीएल और घरेलू क्रिकेट में उनका प्रदर्शन निराश करने वाला रहा। उनके खराब प्रदर्शन ने उन्हें टीम इंडिया से और दूर कर दिया। युवी का कहना है कि जब तक उनकी जरूरत नहीं होगी तब तक वो अपनी टीम के लिए रणजी ट्रॉफी में भी नहीं खेलेंगे। उनका तर्क ये है कि अगर वो चार दिवसीय मैच खेलते हैं तो इस स्थिति में अनमोलप्रीत सिंह और शुभमन गिल जैसे खिलाड़ियों को मौका नहीं मिलेगा। अगर उनका चयन इंडिया ए के लिए होता है तो वो कुछ मैच खेल सकते हैं। युवी के मुताबिक मुझे विश्व कप खेलना है इसलिए मैं किसी युवा खिलाड़ी की जगह नहीं लेना चाहता। इस वक्त मैं घरेलू टूर्नामेंट खेलने की तैयारी कर रहा हूं।भारतीय वनडे टीम में नंबर चार के लिए अब भी घमासान मचा है। ऐसे में क्या वो टीम में वापसी कर सकते हैं ये देखना दिलचस्प होगा पर उनके लिए टीम में जगह बना पाना काफी मुश्किल लग रहा है।क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करेंPosted By: Sanjay Savern

October 15, 2018 13:30 UTC


स्कॉटलैंड के डेविड राबर्टसन कश्मीर में दिला रहे हैं फुटबॉल को नई पहचान

जम्मू। स्कॉटलैंड के डेविड राबर्टसन कश्मीर की फुटबॉल को नई पहचान दिला रहे हैं। उनके प्रशिक्षण की बदौलत कश्मीर का रीयल कश्मीर फुटबॉल क्लब राज्य से अंतरराष्ट्रीय लीग में जगह पाने वाला पहला क्लब बन गया है। एक साल से श्रीनगर में रह रहे कोच डेविड कश्मीर को पूरी तरह सुरक्षित मानते हैं। यही कारण है कि उन्होंने बेटे को भी क्लब में खेलने के लिए स्कॉटलैंड से कश्मीर बुला लिया। उनकी पत्नी व बेटी भी कश्मीर आएंगे।खिलाड़ियों से बेहतर तालमेंल बनाकर उन्हें खिलाने वाले डेविड गुस्से में हिंदी गालियां भी निकालते हैं। यह और बात है कि उन्हें इन गालियों का मतलब नहीं पता है। कश्मीर आए डेविड के पास आज चार नौकरियों के प्रस्ताव हैं। स्कॉटलैंड में रेंजर्स व पीटरहैड के लिए खेल चुके डेविड का कहना है कि कश्मीर तो दूर वह कभी भारत भी नहीं आए थे। उन्हें लगता था कि भारत की तरह कश्मीर भी एक गर्म इलाका होगा। ऐसे हालात में जब वह श्रीनगर पहुंचे तो वहां पर बर्फबारी होते देख हैरान रह गए। बिजली कटौती, इंटरनेट की खामियों के बीच वह लौटना चाहते थे, लेकिन खिलाड़ियों ने ऐसा नहीं करने दिया।डेविड का कहना है कि कश्मीर विश्व के अन्य हिस्सों की तरह ही सुरक्षित है। बस आपको गलत समय पर गलत जगह में नहीं होना चाहिए। ऐसा फीनिक्स या ग्लास्गो जैसे शहरों में भी होता है। कश्मीर सुरक्षित ना होता तो मैं अपने बेटे को कभी यहां नहीं बुलाता। डेविड कश्मीर से पहले चीन व युगांडा में भी काम कर चुके हैं।क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करेंPosted By: Sanjay Savern

October 15, 2018 13:21 UTC


यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली महिला पत्रकार ने एमजे अकबर के सभी दावों का किया खंडन

खास बातें महिला पत्रकार ने अकबर के दावों का किया खंडन कही नौकरी छोड़ने की बात कांग्रेस ने मांगा इस्तीफाविदेश से लौटने के बाद एमजे अकबर ने अपने ऊपर लगे आरोपों को बेबुनियाद करार दिया है. महिला पत्रकार के आरोपों पर उनका कहना है कि एशियन एज के छोटे से दफ़्तर में यह संभव ही नहीं था. दूसरी ओर विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर के इस्तीफ़े की मांग को लेकर यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने आज प्रदर्शन किया. ये लोग एमजे अकबर के घर के बाहर जमा होकर अकबर के इस्तीफे की मांग की. इस समय #METOO अभियान के तहत कई नामी-गिरामी के लोगों के नाम यौन उत्पीड़न के आरोप लग रहे हैं.

Source:NDTV

October 15, 2018 13:18 UTC


Tags
Cryptocurrency      African Press Release      Lifestyle       Hiring       Health-care

Loading...