PM narendra modi cabinet: पीएम नरेंद्र मोदी कैबिनेट में किसे मिलेगी जगह, कौन होगा बाहर? - who will serve in pm narendra modi’s new cabinet?

लोकसभा चुनाव में एनडीए की प्रचंड जीत के बाद अब पीएम नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में किसे शामिल किया जाएगा और किसकी होगी छुट्टी? हर्षवर्धन ही कैबिनेट मिनिस्टर हैं। हालांकि विजय गोयल भी दिल्ली के ही हैं लेकिन चूंकि वे राजस्थान से राज्यसभा सदस्य चुने गए थे, इसलिए उन्हें राजस्थान के कोटे से ही माना जाता रहा है। दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष रह चुके गोयल इस बार भी मंत्रिपद के दावेदार हैं, क्योंकि उन्हें लोकसभा का टिकट नहीं दिया गया था। उधर डॉ. सिंह शामिल हैं। पार्टी सूत्रों का कहना है कि राव इंद्रजीत सिंह हरियाणा के पहले ऐसे सांसद हैं, जो लगातार पांचवी बार चुनकर संसद पहुंचे हैं। फिलहाल वे मोदी कैबिनेट में स्वतंत्र प्रभार वाले राज्यमंत्री हैं। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि इस बार उन्हें कैबिनेट मंत्री बनाया जा सकता है। इसी तरह से डॉ. बीरेन्द्र सिंह के बेटे हैं। इस बार चौ. बीरेन्द्र सिंह की जगह उनके बेटे बृजेन्द्र सिंह को मोदी कैबिनेट में जगह दी जा सकती है। दरअसल, बृजेन्द्र सिंह जाट समुदाय से आते हैं। इस तरह से उन्हें मंत्री बनाकर बीजेपी को हरियाणा और दिल्ली दोनों जगह जाट वोटरों का फायदा मिल सकता है। इसके अलावा पार्टी कुछ युवाओं को भी मंत्रिमंडल में शामिल कर सकती है।

May 25, 2019 03:55 UTC


इतिहास में पहली बार संसद पहुंचेंगी इतनी महिलाएं, जानें आपके क्षेत्र से कौन पहुंचा पार्लियामेंट...

लेकिन इन सभी चुनावी खबरों के बीच एक अच्छी खबर यह है कि यह पहली बार हुआ है लोकसभा चुनाव में इतनी संख्या में महिला प्रत्याशियों की जीत हुई है. अब हम आपको बता रहे हैं उन महिलाओं के नाम जिन्होंने 2019 लोकसभा चुनाव में जीत हासिल की है. प्रचंड जीत के बाद मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में हो सकता है फेरबदल, अमित शाह की क्या हो सकती है भूमिका? हरियाणा में भी 10 सीटों में सिरसा सीट से भाजपा की सुनीता दुग्गल ने जीत दर्ज कर ली है. हीना विजयकुमार गवित (नंदुरबार)5 - रक्षा खड़से (रावेर)Video: अमेठी से जीतने के बाद बोलीं स्मृति ईरानी- एक बार वादा किया है तो निभाऊंगी​

Source:NDTV

May 25, 2019 03:55 UTC


Election News In Hindi : Elections Results 2019: Lalu Yadav, Om Prakash Chautala families also lost; RJD, RLSP, PDP, JJP AND INLD Did Not Get Si

Dainik Bhaskar May 25, 2019, 11:41 AM ISTराजद-रालोसपा के अलावा पीडीपी, इनेलो, स्वाभिमानी पक्ष का भी खाता नहीं खुल पायाबिहार में लालू की पार्टी राजद ने 2014 में 4 सीटें जीती थीं, उपेंद्र कुशवाहा की रालोसपा को एनडीए में रहते 3 सीटें मिली थींहरियाणा में चौटाला परिवार के 3 सदस्य दुष्यंत-दिग्विजय (जजपा) और अर्जुन (इनेलो) चुनाव हारेनई दिल्ली. पिछले लोकसभा चुनाव में सीटें जीतने वाले आठ क्षेत्रीय दल इस बार खाता भी नहीं खोल पाए। इनमें बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की पार्टी राजद, हरियाणा का इंडियन नेशनल लोकदल, महबूबा मुफ्ती की पार्टी पीडीपी, पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा की रालोसपा और राजू शेट्टी की पार्टी स्वाभिमानी पक्ष शामिल है।लालू की बेटी-समधी हारेराष्ट्रीय जनता दल एक भी सीट नहीं जीत पाई। राजद ने बिहार की 40 लोकसभा सीटों में से 19 पर चुनाव लड़ा था। लालू की बेटी मीसा भारती पाटलिपुत्र से और लालू के समधी चंद्रिका राय सारण से चुनाव हार गए। राजद 2014 में 4 सीटें जीतने में कामयाब रही थी।भाजपा से अलग हुए उपेंद्र कुशवाहा दोनों सीटों पर हारेराजद के साथ गठबंधन में शामिल पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी रालोसपा भी खाता नहीं खोल पाई। रालोसपा ने 5 सीटों पर चुनाव लड़ा था। खुद कुशवाहा दो सीटों पर चुनाव लड़े और दोनों पर हार गए। लोकसभा चुनाव से पहले कुशवाहा एनडीए से अलग होकर महागठबंधन में शामिल हुए थे। 2014 में रालोसपा ने एनडीए के साथ चुनाव लड़ा था और उसे 3 सीटें मिली थीं।हरियाणा: चौटाला परिवार के तीन सदस्य हारेहरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री देवीलाल चौटाला के परिवार के तीन सदस्य इस बार चुनाव हार गए। अजय चौटाला के बेटे ने पिछले साल इनेलो से अलग होकर जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) बनाई थी। दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय चौटाला जजपा से और अर्जुन चौटाला इनेलो से चुनाव लड़े थे। तीनों सदस्य चुनाव हार गए। दोनों पार्टियां हरियाणा की 10 सीटों में से एक पर भी जीत हासिल नहीं कर पाई। 2014 में इनेलो को 2 सीटें मिली थीं।कश्मीर: अनंतनाग से महबूबा मुफ्ती हारींजम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की पार्टी पीडीपी एक भी सीट नहीं जीत पाई। महबूबा खुद अनंतनाग सीट से चुनाव हार गईं। वे यहां तीसरे नंबर पर रहीं। महबूबा की पार्टी 2014 में जम्मू-कश्मीर की 6 सीटों में से 3 जीतने में कामयाब हुई थी। 2014 में खाता न खोल पाने वाली नेशनल कॉन्फ्रेंस ने इस बार 3 सीटों पर जीत हासिल की। वहीं, भाजपा ने अपनी 3 सीटें बरकरार रखी हैं।एक भी सीट नहीं जीत पाई स्वाभिमानी पक्ष

May 25, 2019 03:55 UTC


free tea: मोदी की जीत से खुश चायवाले ने दिन भर पिलाई मुफ्त में चाय - lok sabha chunav free tea distributed on modi's win in varanasi

Xवाराणसी लोकसभा सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जबर्दस्‍त जीत से उत्‍साहित होकर एक स्‍थानीय चाय विक्रेता ने चुनाव परिणामों के बाद शुक्रवार को लोगों को दिन भर मुफ्त में चाय पिलाई। कन्‍हैया नाम के यह चाय विक्रेता फेरी पटरी ठेला व्‍यावसायिक समिति के सदस्‍य हैं। वह इंग्लिशिया लाइन क्रॉसिंग के पास अपनी चाय का स्‍टॉल लगाते हैं।मोदी वाराणसी से लगातार दूसरी बार जीते हैं। इस बार उन्‍होंने अपनी नजदीकी प्रतिद्वंद्वी शालिनी यादव(समाजवादी पार्टी) को 4.78 लाख वोटों के अंतर से हराया। मोदी को 6,74,664 वोट मिले जबकि शालिनी को महज 1,95,159 वोट मिल पाए।इसके लिए कन्‍हैया ने करीब 500 लीटर दूध का इंतजाम किया था। मोदी की जीत से उत्‍साहित कन्‍हैया ने कहा, 'मोदी जी की काशी से दूसरी विजय पर और लोगों की तरह मैं भी बहुत खुश हूं। वह बहुत ही अच्‍छा काम कर रहे हैं और उनसे हमें बहुत आशाएं हैं।'कन्‍हैया सारे दिन लोागें को कुल्‍हड़ में चाय पिलाते दिखे। काशी इकाई के अध्‍यक्ष महेश चंद्र श्रीवास्‍तव के अलावा कई बीजेपी कार्यकर्ता यहां चाय पीते देखे गए।

May 25, 2019 03:53 UTC


राहुल गांधी को हराने वाली स्मृति ईरानी को मोदी कैबिनेट में इस बार मिल सकती है पहले से भी बड़ी जिम्मेदारी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को उनके गढ़ अमेठी में हराकर बड़ा उलटफेर करने वाली निवर्तमान केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को इस बार मोदी सरकार में अहम जिम्मेदारी मिल सकती है. शुक्रवार को स्मृति ईरानी ने कहा कि उनकी जीत कोई ‘ राकेट विज्ञान' नहीं है क्योंकि अमेठी के लोगों को ऐसा प्रतिनिधि चाहिये था जो उनके लिये अगले पांच साल काम कर सके. ईरानी ने कहा कि उन्हें जीत मोदी सरकार के विकास के एजेंडे के कारण मिली. उन्होंने कहा कि केंद्र और उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकारें अमेठी के विकास के लिये काम कर रही है. मेरी ओर से, भारतीय जनता पार्टी के संगठन की ओर से, हमारे कार्यकर्ताओं की ओर से आपको शत शत नमन, आपको आभार.''

Source:NDTV

May 25, 2019 03:33 UTC


प्रचंड जीत के बाद मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में हो सकता है फेरबदल, अमित शाह की क्या हो सकती है भूमिका?

खास बातें बीजेपी की लोकसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत मंत्रिमंडल में टिकीं निगाहें गठन में अमित शाह की क्या होगी जिम्मेदारी? ऐसी अटकलें भी लगाई जा रही है कि सरकार में अमित शाह (Amit Shah) समेत कई नये चेहरों को स्थान दिया जा सकता है. मोदी के नेतृत्व में भाजपा ने लोकसभा चुनाव में 303 सीटों पर जीत दर्ज की है और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को चुनाव में 350 सीटें हासिल हुई है. ऐसी उम्मीद है कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण नयी सरकार में मुख्य भूमिका में रह सकती हैं. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि पार्टी उन्हें कोई बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है.

Source:NDTV

May 25, 2019 03:22 UTC


coaching fire in surat: सूरत कोचिंग अग्निकांड: 'मेरे पास बिल्डिंग से कूदने के अलावा कोई और रास्‍ता नहीं था' - surat coaching fire survivor said i had no other way than jumping from the building

आग से बचने के लिए तीसरी मंजिल से कूदे लोगशनिवार सुबह घटनास्‍थलमारे गए बच्‍चों के शव को ले जाते अस्‍पताल कर्मचारीदेखें, सूरत आग में फंसे स्टूडेंट्स को बचाने की कोशिश करता रहा ये जांबाजXडायमंड सिटी के नाम से मशहूर सूरत के सरथना इलाके में एक व्‍यवसायिक इमारत के तीसरे मंजिल पर चल रहे कोचिंग सेंटर के अंदर लगी भीषण आग में 16 लड़कियों समेत 20 स्‍टूडेंट्स जलकर मर गए। विनाशकारी आग से बचने के लिए करीब एक दर्जन स्‍टूडेंट इमारत के तीसरे और चौथे फ्लोर से कूद गए। कूदने वाले लोगों में से तीन की मौत हो गई। इस हादसे में बचे एक स्‍टूडेंट ने बताया कि उसके पास तीसरी मंजिल से कूदने के अलावा और कोई चारा नहीं था। इस बीच क्राइम ब्रांच ने कोचिंग सेंटर के मालिक भार्गव भूटानी को अरेस्‍ट कर लिया है।इस भीषण अग्निकांड में जिंदा बचे रुशित वेकारिया ने बताया कि कोचिंग सेंटर के एसी में से निकल रही आग से सभी लोग डर गए थे। उन्‍होने कहा, 'कोचिंग पढ़ाने वाले टीचर ने कहा कि यह धुआं निश्चित रूप से किसी ने बाहर आग जलाई होगी, उससे आ रहा होगा। लेकिन धुआं लगातार बढ़ता गया तो हम लोग अंतिम कमरे में सुरक्षा के लिए चले गए। जब सांस लेने में दिक्‍कत होने लगी तो हमने खिड़कियों को खोल दिया।'वेकारिया ने बताया कि फायर ब्रिगेड के लोग नीचे मौजूद थे और उन्‍होंने कूदने के लिए कहा। उन्‍होंने कहा, 'फायर ब्रिगेड के लोग नीचे कूदने के लिए कह तो रहे थे लेकिन हमें पकड़ने के लिए उनके पास कोई सुरक्षा जाल नहीं था। मैंने सोचा कि अगर मैं यहां रहूंगा तो धुएं से मर जाऊंगा। इसलिए मैंने चांस लिया और अपने दोस्‍तों को छोड़कर तीसरी मंजिल से कूद गया। इसके बाद मुझे बस इतना याद है कि मुझे बहुत तेज दर्द हो रहा था। जब मैं उठा तो खुद को हॉस्पिटल में पाया और महसूस किया कि मैं बच गया हूं।' वेकारिया को हाथों और सिर में चोट आई है। डॉक्‍टरों ने उन्‍हें आठ टांके लगाए हैं।उन्‍होंने कहा, 'मैं अच्‍छे आर्किटेक्‍चर कॉलेज में दाखिला लेना चाहता हूं और इसी के लिए तैयारी कर रहा था। हाई स्‍कूल के एग्‍जाम में 85 फीसदी नंबर आने के बाद मेरे परिवार ने मुझे मेरे पसंदीदा काम को करने की अनुमति दे दी। मेरे पिता का हीरों का कारोबार है और मेरी मां हाउस वाइफ हैं। वे मेरी लगन को देखकर बहुत आशान्वित थे। मैंने कभी यह सोचा भी नहीं था कि यह आग कुछ ही मिनटों में मेरे पूरे जीवन को बदलकर रख देगी। मैं नहीं जानता हूं कि मेरे साथी कहां हैं। वे जिंदा भी बचे हैं या नहीं।'इस भीषण अग्निकांड में बच्‍चों के शव इतनी बुरी तरह से जल गए थे कि उनकी पहचान नहीं हो पा रही थी। इसी दौरान एक महिला ने कहा, 'आ आमरी दिकरी छे (यह मेरी बेटी है)।' दरअसल, महिला ने अपनी बेटी जाह्नवी की पहचान उसकी घड़ी से की। जाह्नवी का शव काफी जल गया था जिससे उनकी पहचान नहीं हो पा रही थी। जाह्नवी के अंकल भारत ने बताया कि जाह्नवी को हाल ही में उसके पिता ने नई घड़ी गिफ्ट की थी। जाह्नवी आग में घिर गई थी और खुद को बचा नहीं सकी।हालांकि स्थानीय लोगों ने मीडिया से बातचीत में कहा कि बिल्डिंग में फायर सेफ्टी सिस्टम तक नहीं मौजूद था और आग लगने की स्थिति में बिल्डिंग से निकलने का कोई रास्ता नहीं था। यही वजह रही कि जो जहां था, वहीं फंसा रह गया और जान बचाने के लिए बिल्डिंग से कूदना ही आखिरी रास्ता दिखा। इस भीषण हादसे के बाद जागी सरकार ने अहमदाबाद, सूरत, राजकोट, वड़ोदरा के सभी कोचिंग सेंटर्स को फायर सेफ्टी ऑडिट पूरा होने तक बंद रखने का आदेश दिया है। हादसे के बाद अहमदाबाद पुलिस ने जिले में चल रहीं सभी ट्यूशन क्लासों, डांस क्लासों और समर कैंप्स को ऐहतियातन बंद करने का आदेश दिया था।गर्मियों की छुट्टी पर चल रहे सूरत के नगर आयुक्‍त एम थेन्‍नर्सन ने वरच्‍छा के फायर ऑफिसर को इस घटना के लिए जिम्‍मेदार ठहराया है। उन्‍होंने कहा कि फायर ऑफिसर इमारत में सुरक्षा मानकों के उल्‍लंघन की पहचान नहीं कर सके। थेन्‍नर्सन ने कहा, 'हमने उन्‍हें सस्‍पेंड करने का फैसला किया है।' उधर, देर रात कोचिंग सेंटर चलाने वाले भार्गव भूटानी और अवैध रूप से तीसरा फ्लोर बनाने वाले हर्सुल वेकारिया तथा जिग्‍नेश बागदारा के खिलाफ के खिलाफ मामला दर्ज किया। इस बीच क्राइम ब्रांच ने कोचिंग सेंटर के मालिक बौर्गव भूटानी को शनिवार को अरेस्‍ट कर लिया।

May 25, 2019 03:16 UTC


कांग्रेस के नेता ने किया BJP को सैल्यूट, हार के बाद अपनी पार्टी के लिए कही यह बात...

खास बातें कांग्रेस के नेता ने किया BJP को सैल्यूट हार के बाद कांग्रेस के लिए कही यह बात उन्होंने कहा, देश का नब्ज टटोलने में नाकाम रही कांग्रेसलोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) में कांग्रेस की करारी हार के बाज जहां पार्टी की काफी आलोचना हो रही है, तो वहीं ऐसी भी खबरें आ रही हैं कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) कांग्रेस कार्य समिति (CWC) की बैठक में इस्तीफे की पेशकश कर सकते हैं. अब कांग्रेस के नेता गौरव गोगोई (Gaurav Gogoi) ने लोकसभा चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन पर अपनी राय रखी है. बता दें कि गौरव गोगोई (Gaurav Gogoi) कांग्रेस के उन नेताओं में से हैं, जिन्होंने जीत दर्ज की है. बीजेपी को इस जीत के लिए सैल्यूट." Video: स्मृति ईरानी को अमेठी से जीत की बधाई - राहुल गांधी

Source:NDTV

May 25, 2019 03:11 UTC


South China Sea in spotlight ahead of Shangrila Dialogue

NEW DELHI: South China Sea region where China has created artificial islands violating international law is once again in the spotlight ahead of the next edition of the Shangrila Dialogue one of region’s key geopolitical dialogue in Singapore between May 31-June 2.The Chinese foreign ministry shot back last Thursday at a US Senate proposal to punish Chinese individuals and entities for “illegal and dangerous” activities in the South China Sea. “We urge the US side not to proceed the deliberation of the legislation, in order not to bring new disruption to the China-US relations,” Lu told a regular press briefing.Marco Rubio, Republican Senator who is leading the drive to introduce the legislation, told Hong Kong based South China Morning Post, that a bipartisan group of senators would reintroduce the South China Sea and East China Sea Sanctions Bill on Thursday. China considers at least 80 per cent of the South China Sea to be its sovereign territory, a claim disputed by other regional powers.Earlier this year US Secretary of State Mike Pompeo suggested that China was blocking energy development in the South China Sea through "coercive means", preventing Southeast Asian countries from accessing more than $2.5 trillion in recoverable energy reserves. Asean and China agreed at their summit in Singapore last November to the early conclusion of a code of conduct (COC) for the South China Sea. Peaceful means should be used according to the principles of international law, including the UNCLOS.

May 25, 2019 03:11 UTC


Tags
Cryptocurrency      African Press Release      Lifestyle       Hiring       Health-care       VMware

Loading...